चीन में बहुविवाह की वकालत करने वाला प्रोफेसर निलंबित

2021-06-14T17:35:58.653

 बीजिंग: चीन के एक प्रमुख लॉ कालेज के प्रोफेसर को उनकी इस दलील को लेकर निलंबित कर दिया गया है कि कुछ बुद्धिजीवियों को बहुविवाह की अनुमति दी जानी चाहिए। शंघाई में ईस्ट चाइना यूनिवर्सिटी ऑफ पॉलिटिकल साइंस एंड लॉ के एसोसिएट प्रोफेसर बाओ यिनान ने सोशल मीडिया मंच ‘वीचैट मोमेंट्स' पर लिखा था कि विवाह और आजीवन भत्तों के मामले में चीनी कॉलेजों और विश्वविद्यालयों के शिक्षकों के साथ "विशेष व्यवहार'' किया जाना चाहिए। यह सोशल मीडिया मंच सिर्फ मित्रों के लिए ही है।

 

हांगकांग के समाचार पत्र साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट ने सोमवार को खबर दी कि बहुविवाह के संबंध में उनकी टिप्पणी सार्वजनिक मंचों पर लीक हो गयी और इस राय को लेकर उनकी खासी आलोचना हुयी। समाचारपत्र की खबर के अनुसार, विश्वविद्यालय की कम्युनिस्ट पार्टी की कार्य समिति के तहत आने वाली शिक्षक कार्य इकाई ने पिछले हफ्ते एक बयान जारी कर कहा कि "गलत विचारों को ऑनलाइन प्रकाशित करने" के कारण बाओ को शिक्षण कार्य से हटा दिया गया है।

 

बयान में कहा गया है कि संस्थान द्वारा बाओ के खिलाफ उचित कार्रवाई की जाएगी। बाओ बहुविवाह की वकालत करने वाले अकेले व्यक्ति नहीं हैं। फुदान विश्वविद्यालय के प्रोफेसर यू-क्वांग एनजी ने करीब एक साल पहले इसी तरह की राय दी थी। उन्होंने प्रस्ताव किया था कि चीन में लिंग असंतुलन में सुधार के लिए चीनी महिलाओं को कई पति रखने की अनुमति दी जानी चाहिए। चीन में 100 लड़कियों पर करीब 118 लड़के पैदा होते हैं। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Tanuja

Recommended News