परमाणु हथियारों-मिसाइलों के परीक्षण पर फिर से काम करेगा उत्तर कोरिया, कहा-अमेरिका ने किया मजबूर

punjabkesari.in Thursday, Jan 20, 2022 - 11:01 AM (IST)

 सियोल: उत्तर कोरिया ने अमेरिका पर शत्रुता और धमकियों को बढ़ावा देने का आरोप लगाते हुए बृहस्पतिवार को कहा कि वह ''अस्थायी रूप से निलंबित उन सभी गतिविधियों'' पर फिर से काम शुरू करने पर विचार करेगा, जिन पर उसने ट्रंप प्रशासन के साथ चली कूटनीति के दौरान विराम लगा दिया था। इस बयान के जरिये उत्तर कोरिया ने परमाणु हथियारों और लंबी दूरी की मिसाइलों का परीक्षण फिर से शुरू करने का संकेत दिया है।

 

उत्तर कोरिया की आधिकारिक कोरियन सेंट्रल न्यूज एजेंसी (केसीएनए) ने कहा कि देश के नेता किम जोंग उन ने सत्तारूढ़ वर्कर्स पार्टी के पोलितब्यूरो की बैठक की अध्यक्षता की, जिसमें अधिकारियों ने अमेरिकियों की ''शत्रुतापूर्ण चालबाजियों'' का मुकाबला करने के लिए उत्तर कोरिया की सैन्य क्षमताओं को ''तुरंत मजबूत'' बनाने के मकसद से नीतिगत लक्ष्य निर्धारित किए। केसीएनए ने कहा कि अधिकारियों ने अस्थायी रूप से निलंबित सभी गतिविधियों को फिर से शुरू करने संबंधी मसलों पर मंथन करने के निर्देश दिये हैं। उत्तर कोरिया ने हाल में अपने हथियारों के प्रदर्शन की कवायद को तेज किया है।

 

इस कवायद के तहत इस महीने चार राउंड में मिसाइलों का परीक्षण किया गया है। इसका मकसद अमेरिका के साथ लंबे समय से रुकी हुई परमाणु कूटनीति को लेकर वाशिंगटन पर फिर से दबाव बनाना हो सकता है। उत्तर कोरिया की निरंतर मिसाइल परीक्षण गतिविधि पर पिछले सप्ताह बाइडन प्रशासन ने नयी पाबंदियां लगा दी थीं, जिसके बाद उत्तर कोरिया के विदेश मंत्रालय ने कड़ी कार्रवाई करने की चेतावनी दी थी। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने उत्तर कोरिया और परमाणु निरस्त्रीकरण के मामलों पर चर्चा के लिए बृहस्पतिवार को एक बैठक बुलाई है। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Tanuja

Related News

Recommended News