जापान में कोरोना का कहर बढ़ा, 1 महीने के लिए एमरजैंसी घोषित

2021-01-09T11:45:16.257

टोक्योः जापान में कोरोना वायरस का कहर तेजी से बढ़  रहा है। संक्रमण को रोकने के लिए आपात स्थिति की घोषणा की है। यह आपात स्थिति शुक्रवार से लागू हो गई है, जो सात फरवरी तक जारी रहेगी। इस दौरान लोगों को कोरोना संक्रमण को रोकने के उपायों जैसे मास्क पहनना और सोशल डिस्टेंसिंग को बनाए रखना अनिवार्य होगा। बड़े पैमाने पर स्वास्थ्य अधिकारी और पुलिसकर्मी लोगों की जांच भी करेंगे। 

 

आपातकाल के ऐलान के पहले दिन जनजीवन सामान्य रहा और ट्रेनों में मास्क पहने लोगों की भीड़ दिखी। प्रधानमंत्री योशिहिदे सुगा ने रेस्तरां में कामकाज के समय में कटौती करने और लोगों से घर से काम करने की अपनी अपील दोहरायी। सुगा ने कहा कि हम लोग इसे बेहद गंभीरता से ले रहे हैं। लोगों के सहयोग से हमें हर कीमत पर इस मुश्किल स्थिति से निकलना होगा।

 

आपात स्थिति के तहत जापान में रेस्टोरेंट्स और बार को रात आठ बजे बंद करने की बात कही गई है। साथ ही लोगों से कहा गया है कि वे घरों में रहें और भीड़ में नहीं जाएं। यह तोक्यो और उसके पास के इलाकों सैतामा, चीबा और कानागावा में लागू रहेगा। प्रधानमंत्री सुगा ने कहा कि देश के हर हिस्से में संक्रमण के मामलों में खासी वृद्धि हुई है। जापान में अब तक कोविड-19 के 2,60,000 मामले सामने आए हैं और शुक्रवार को 7,500 से अधिक नए मामले आए। एपी सुरभि अविनाशअविनाश


Tanuja

Recommended News