पाकिस्तान में महंगाई पहुंची रिकॉर्ड स्तर पर, पिछले 13 वर्षों में सबसे अधिक

punjabkesari.in Saturday, Jul 02, 2022 - 12:26 AM (IST)

इस्लामाबादः पाकिस्तान में मुद्रास्फीति जून में बढ़कर 21.32 प्रतिशत हो गई जो 13 पिछले वर्षों में सबसे अधिक है। पाकिस्तान सांख्यिकी ब्यूरो (पीबीएस) द्वारा शुक्रवार को साझा किए गए आंकड़ों से इस बात का खुलासा हुआ है। 

समाचारपत्र ‘डॉन' के मुताबिक पिछले महीने महंगाई 13.76 फीसदी दर्ज की गई थी। जून में मुद्रास्फीति 6.34 फीसदी मासिक (एमओएम) और 21.32 फीसदी सालाना (वर्ष-दर-वर्ष) बढ़ी, जो दिसंबर 2008 के बाद से उच्चतम आंकड़ा था। दिसंबर 2008 में मुद्रास्फीति 23.3 फीसदी थी। 

पीबीएस के मुताबिक शहरी इलाकों में महंगाई 19.84 फीसदी और ग्रामीण इलाकों में 23.55 फीसदी बढ़ी है। कई क्षेत्रों में दोहरे अंकों में मुद्रास्फीति देखी गई, लेकिन प्रवृत्ति मुख्य रूप से परिवहन द्वारा संचालित थी, जिसमें 62.17 प्रतिशत की वृद्धि और खराब होने वाले खाद्य पदार्थों की कीमतों में 36.34 प्रतिशत की वृद्धि देखी गई। शिक्षा और संचार केवल दो क्षेत्र ऐसे थे जहां मुद्रास्फीति क्रमश: 9.46 प्रतिशत और 1.96 फीसदी पर एकल अंकों में थी। 

पीबीएस प्रेस वक्तव्य गैर-खाद्य-संबंधित वस्तुओं में वृद्धि का विवरण देते हुए यह दर्शाता है कि मोटर ईंधन, तरलीकृत हाइड्रोकार्बन और बिजली शुल्क में साल-दर-साल भारी वृद्धि हुई है। साथ ही मोटर ईंधन की कीमतों में कम से कम 95 फीसदी की वृद्धि हुई है। रिपोर्ट के अनुसार, पाकिस्तान के वित्त मंत्रालय ने पहले भविष्यवाणी की थी कि आगामी वित्तीय वर्ष में मुद्रास्फीति 15 प्रतिशत से अधिक हो जाएगी। 
 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Pardeep

Related News

Recommended News