हैती में विवादित क्षेत्र में रिपोर्टिंग कर रहे 2 पत्रकारों को जिंदा जलाया

punjabkesari.in Saturday, Jan 08, 2022 - 11:19 AM (IST)

इंटरनेशनल डेस्कः  पोर्ट ऑ प्रिंस के दक्षिण में एक विवादित क्षेत्र में रिपोर्टिंग करते समय हैती के दो पत्रकारों की एक गिरोह के सदस्यों ने हत्या कर दी। पुलिस ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। वहीं, कैरेबियाई देश में हिंसा में वृद्धि जारी है। पत्रकार के नियोक्ता और मीडिया में आई कुछ खबरों में बताया गया कि दोनों को गोली मारी गई और फिर उन्हें जिंदा जला दिया गया। हालांकि पुलिस ने इसकी पुष्टि नहीं की। पुलिस के एक बयान में केवल इतना कहा गया है कि शवों पर ‘‘गोली लगने के निशान'' थे।

 

रेडियो इकूट एफएम ने कहा कि पत्रकार जॉन वेस्ले अमाडी को बृहस्पतिवार को लाबूल में ‘‘हथियारबंद डाकुओं'' ने मार दिया था, जब वह गिरोह से घिरे क्षेत्र में सुरक्षा मुद्दों पर रिपोर्टिंग कर रहे थे। स्टेशन के महाप्रबंधक फ्रेंकी एटिस ने कहा, ‘‘हम इस आपराधिक और बर्बर कृत्य की कड़ी निंदा करते हैं, जो जीवन जीने विशेष रूप से पत्रकारों के देश में स्वतंत्र रूप से काम करने के अधिकारों पर गंभीर हमला करता है।'' पुलिस ने एक बयान जारी कर अमाडी (30) और विल्गुएन्स लुइसेंट (22) की मौत की पुष्टि की। प्रारंभ में सूचना मिली थी कि तीन पत्रकार घटनास्थल पर गए थे और दो मारे गए थे जबकि तीसरा वहां से भाग निकला था।

 

हैती में ऑनलाइन मीडिया एसोसिएशन के अध्यक्ष गोडसन लेब्रून ने कहा, ‘‘2022 की शुरुआत में गिरोह ने हैती में फिर से हमला किया। मैं इन साथी पत्रकारों को नमन करता हूं जो सिर्फ इसलिए मारे गए क्योंकि वे सूचना पहुंचाना चाहते थे। मैं इस सिलसिले में जांच और न्याय की मांग करता हूं।'' न्यूयॉर्क में संयुक्त राष्ट्र के प्रवक्ता स्टीफन दुजारिक ने कहा, ‘‘यह सिर्फ एक और उदाहरण है कि दुनिया भर के पत्रकार क्या सामना करते हैं और दुख की बात है कि उनकी हत्या सिर्फ सच बोलने की कोशिश के लिए की जाती है और हम इसके लिए सिर्फ दंड की उम्मीद कर सकते हैं।'' हैती के प्रधानमंत्री एरियल हेनरी ने उन गिरोहों पर नकेल कसने का संकल्प लिया है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Tanuja

Related News

Recommended News