ईरान में मुस्लिम लड़कियों ने उतारा हिजाब; वीडियो देख भड़के कट्टरपंथी, पुलिस ने दी कड़ी सजा

punjabkesari.in Sunday, Jun 26, 2022 - 03:42 PM (IST)

तेहरान: ईरान के दक्षिणी शहर शिराज में स्केटबोर्डिंग डे पर हिजाब न पहनने पर कई किशोर लड़कियों को गिरफ्तार किया है। शिराज पुलिस प्रमुख फराज शोजाई के हवाले से न्यूज एजेंसी IRNA ने बताया कि कई लड़कियों ने स्पोर्ट इवेंट के अंत में धार्मिक मान्यताओं और कानूनी नियमों को तोड़ते हुए हिजाब उतार दिए। पुलिस ने कई आयोजकों को भी गिरफ्तार किया है। 

 

डेलीमेल की खबर के अनुसार आयोजन, जिसमें दर्जनों किशोरों ने सख्त इस्लामिक नियमों का खुलेआम उल्लंघन किया, करने के आरोप में पांच आयोजकों को हिरासत में लिया गया है। शोजाई ने कहा, 'न्यायपालिका के सहयोग से, गुरुवार को कई अपराधियों और इस आयोजन से जुड़े लोगों की पहचान की गई और उन्हें गिरफ्तार किया गया।' ईरान की सोशल मीडिया पर शिराज में आयोजित 'गो स्केटबोर्डिंग डे' का वीडियो वायरल हो रहा है। वीडियो ने धार्मिक कट्टरपंथियों के बीच आक्रोश पैदा कर दिया है।

 

रूढ़िवादी देश ईरान में सभी महिलाओं और किशोर लड़कियों के लिए हिजाब पहनना अनिवार्य है। शोजाई ने कहा, 'धार्मिक और कानूनी नियमों का पालन किए बिना किसी स्पोर्ट्स या नॉन-स्पोर्ट्स इवेंट का आयोजन करना सख्त मना है और आयोजकों को कानून के मुताबिक सख्त सजा दी जाएगी।' शिराज के गवर्नर लोटफुल्ला शेबानी ने कहा कि इवेंट का आयोजन सामाजिक, धार्मिक और राष्ट्रीय नियमों को तोड़ने के उद्देश्य से किया गया था। शिराज में 15 जुलाई को जुमे की नमाज के बाद 'हिजाब की पवित्रता के समर्थक' शीर्षक से एक मार्च निकाला जाएगा।

 

ईरान में 1979 की क्रांति के बाद से लागू इस्लामिक लॉ के तहत महिलाओं को ऐसा हिजाब पहनना अनिवार्य है जो उनके बालों को छिपाते हुए सिर और गर्दन को ढके। ईरान के कट्टरपंथी इस तरह के आयोजनों, जहां इस तरह के नियमों को नजरअंदाज किया जाता है, को इस्लामिक रिपब्लिक के खिलाफ पश्चिम की 'सॉफ्ट वॉर' मानते हैं। हालांकि तेहरान और दूसरे प्रमुख शहरों में पिछले दो दशकों में नियमों ढील दी गई है जिसके तहत महिलाएं अब अपने हिजाब को थोड़ा पीछे कर सिर खुला रख सकती हैं।

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Tanuja

Related News

Recommended News