ऑस्ट्रेलिया ने चीन की धमकी का दिया करारा जवाब, बेल्ट एंड रोड प्रोजक्ट डील की रद्द

2021-04-22T11:11:19.73

सिडनीः ऑस्ट्रेलिया ने चीन को सबक सिखाने के लिए  चीन के सबसे महत्वकांशी प्रोजेक्ट बेल्ट एंड रोड इनिशिएटिव से किनारा कर लिया है। प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन की कैबिनेट ने राष्ट्रीय सुरक्षा को ध्यान में रखकर चीन की महत्वकांक्षी बेल्ट एंड रोड इनिशिएटिव के दो समझौते को रद्द कर दिया है। जिन दो समझौतों को रद्द किया गया है उनमें चीनी कंपनियां ऑस्ट्रेलिया के विक्टोरिया प्रांत में दो बिल्डिंग इंफ्रास्ट्रक्टर को तैयार करने वाली थीं।

 

ऑस्ट्रेलिया ने बुधवार को नए कानून के तहत चीन, ईरान और सीरिया के साथ चार द्विपक्षीय समझौतों को रद्द कर दिया। नया कानून संघीय सरकार को निचले प्रशासनिक स्तर पर किये गए उन अंतरराष्ट्रीय समझौतों की अनदेखी की शक्तियां प्रदान करता है जो राष्ट्रहित का उल्लंघन करती हों। विदेश मंत्री मारिस पायने ने एक बयान में कहा कि जिन सौदों को रद्द किया गया है उनमें विक्टोरिया राज्य की दो “बेल्ट एंड रोड” अवसंरचना इमारत से संबंधित सौदे हैं जिन पर चीन के साथ 2018 और 2019 में हस्ताक्षर हुए थे। इन सौदों को लेकर विधायी प्रतिक्रिया हुई थी। विक्टोरिया एजुकेशन डिपार्टमेंट समझौते पर सीरिया के साथ 1999 में और ईरान के साथ 2004 में हस्ताक्षर हुए थे, जिन्हें रद्द कर दिया गया है।

 

पायने ने एक बयान में कहा, “मुझे लगता है कि ये चार व्यवस्था ऑस्ट्रेलिया की विदेश नीति के तारतम्य में नहीं हैं या हमारे विदेश संबंधों के प्रतिकूल हैं।” चीन ने पूर्व में विक्टोरिया के साथ “सफल व्यवहारिक सहयोग” को बाधित करने को लेकर चेतावनी दी थी। ऑस्ट्रेलिया ने 2018 में एक राष्ट्रीय सुरक्षा कानून पारित किया था जो घरेलू नीतियों में गुप्त विदेशी दखल को प्रतिबंधित करता है। बीजिंग ने इन कानूनों को चीन के प्रति पूर्वाग्रह पूर्ण और चीन-ऑस्ट्रेलिया के रिश्तों में जहर घोलने वाला करार दिया।  


Content Writer

Tanuja

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News

static