पाकिस्तान में बिलावल भुट्टो ने किसानों के हक में इमरान सरकार के खिलाफ निकाला ट्रैक्टर-ट्राली मार्च

punjabkesari.in Monday, Jan 24, 2022 - 02:36 PM (IST)

इस्लामाबादः भारत में पिछले साल लंबे संघर्ष के बाद किसानों ने अपना आंदोलन खत्म कर दिया है लेकिन अब पाकिस्तान के किसानों ने अपनी मांगों को लेकर विपक्षी दल ने आंदोलन तेज कर दिया है। पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (PPP) के अध्यक्ष बिलावल भुट्टो-जरदारी ने प्रधानमंत्री इमरान खान की पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (PTI) की खराब कृषि नीतियों का विरोध करने के लिए शुक्रवार को ट्रैक्टर-ट्रॉली मार्च का आयोजन किया जिसमें बड़ी संख्या में किसानों ने भाग लिया।

 

डॉन की रिपोर्ट के अनुसार ट्रैक्टर रैली के दौरान PPP के अध्यक्ष बिलावल भुट्टो-जरदारी ने किसानों से कहा कि "इस चुनी हुई सरकार" ने देश की कृषि अर्थव्यवस्था को उतना ही नुकसान पहुंचाया है जितना कि पिछले तीन वर्षों में समग्र अर्थव्यवस्था को नुकसान पहुंचाया है। उन्होंने यह भी कहा कि कृषि देश की आर्थिक रीढ़ है और सरकार की कथित अपर्याप्त कृषि नीतियों का विरोध करने वाले किसानों को अपना समर्थन देने की पेशकश की।  उन्होंने दावा किया कि 2018 में इमरान खान के सत्ता में आने के बाद से ही किसानों को उनकी फसलों के लिए पर्याप्त मूल्य नहीं मिल रहा है, जबकि महंगाई  आसमान छू रही है।

 

बिलावल भुट्टो-जरदारी  ने कहा कि वे  किसानों के साथ मिलकर इमरान सरकार का विरोध करेंगे। उन्होंने आगे कहा कि पीपीपी प्रत्येक मंडल में किसान और ट्रैक्टर मार्च निकालेगी। उन्होंने आगे कहा कि पिछले सीजन में पानी की कमी के कारण धान की फसल को नुकसान हुआ था। उन्होंने यह भी कहा कि यूरिया खाद की कमी से अब गेहूं की फसल को नुकसान हो रहा है।

 

PPP के  सूचना सचिव और एमएनए शाजिया मारी ने गुरुवार को कहा कि किसान यूरिया उर्वरक की कमी जैसी बड़ी चुनौतियों का सामना कर रहे हैं और पीटीआई सरकार की किसान विरोधी नीतियों का विरोध कर रहे हैं । उन्होंने कहा कि यूरिया खाद की एक बोरी अवैध बाजार में 3,500 रुपये तक मिल रही है और सरकार किसानों की मदद नहीं कर रही है।  उन्होंने यह भी कहा कि पीपीपी संघीय सरकार की किसान विरोधी नीतियों के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करेगी।

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Tanuja

Related News

Recommended News