See More

सीमा चौकी पर पाक रेंजर्स की गोलीबारी में 15 अफगान लोगों की मौत, 80 से ज्यादा घायल

2020-08-01T12:45:15.607

इस्लामाबादः पाकिस्तान-अफगानिस्तान बॉर्डर पर बलूचिस्तान में स्थित चमन सीमा चौकी पर पाकिस्तानी रेंजर्स की गोलीबारी में अफगानिस्तान के 15 लोगों की मौत हो गई जबकि 80 से ज्यादा लोग घायल बताए जा रहे हैं। सीमा पर तनाव बढ़ने के कारण अफगानिस्तान ने अपनी आर्मी और एयरफोर्स को भी हाई अलर्ट पर कर दिया है। चमन सीमा चौकी कोरोना वायरस महामारी के चलते बंद है लेकिन बकरीद को लेकर बुधवार को इसे खोला गया था ताकि दोनों तरफ के लोग ईद मनाने के लिए अपने मूल स्थानों पर जा पाएं।

 

बृहस्पतिवार को बड़ी संख्या में लोग फ्रेंडशिप गेट पर धरने पर बैठ गये और सीमा चौकी को खोलने की मांग करने लगे। फ्रंटियर कोर के कर्मियों ने उनसे कहा कि जब तक प्रदर्शनकारी इस जगह से नहीं चले जाते, गेट नहीं खोला जाएगा। इस बात पर प्रदर्शनकारी हिंसक हो गये और वे फ्रेंडशिप गेट पर फ्रंटियर कोर और अन्य सरकारी एजेंसियों के कार्यालयों पर हमला करने लगे। पुलिस ने प्रदर्शनकारियों पर गोलियां चलाईं। इस कार्रवाई में 15 अफगान नागरिकों की मौत हो गई जबकि 80 लोग घायल हो गए। अफगानिस्तान की रक्षा मंत्रालय ने आरोप लगाया है कि पाकिस्तानी फौज उसके इलाके में रॉकेट हमले कर रही है। अगर इस कार्रवाई को रोका नहीं जाता है तो अफगान फोर्स जवाबी कार्रवाई करेगी।

 

वहीं, अफगानिस्तान के कंधार प्रांत के गवर्नर हयातुल्लाह हयात ने कहा कि पाकिस्तानी गोलीबारी की चपेट में कई रिहाइशी इलाके आए हैं। उधर, पाकिस्तानी विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कहा कि सीमा पर पैदा हुए हालात को लेकर अफगानिस्तान सरकार से बातचीत जारी है और इसके जल्द नतीजे निकलने की संभावना है। बता दें कि, अफगानिस्तान कई बार पाकिस्तान के ऊपर आतंकवादी गतिविधियों में शामिल होने का आरोप लगा चुका है। इसी कारण दोनों देशों के बीच रिश्ते भी सामान्य नहीं हैं।


Tanuja

Related News