देश जल रहा है और प्रधानमंत्री धर्मशाला की ठंडी वादियों में रोड शो करते हैं: राजेंद्र राणा

punjabkesari.in Sunday, Jun 19, 2022 - 01:31 PM (IST)

हमीरपुर (प्रकाश ठाकुर): केंद्र सरकार के गलत फैसलों के कारण हिमाचल जैसे शांत प्रदेश का माहौल भी खराब होने लगा है। युवा सड़कों पर हैं, लेकिन सरकार को किसी की परवाह नहीं है। देश जल रहा है और प्रधानमंत्री धर्मशाला की ठंडी वादियों में रोड शो करते हैं, इससे बड़ी गैर-जिम्मेदाराना बात क्या हो सकती है। यह बात हिमाचल कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष एवं सुजानपुर के विधायक राजेंद्र राणा ने पंजाब केसरी से विशेष बातचीत में कही।

राजेंद्र राणा ने कहा कि एक महीने में प्रधानमंत्री किसी प्रदेश में 2 बार आए, प्रदेश सरकार उनके स्वागत में करोड़ों रुपए खर्च करे और प्रधानमंत्री प्रदेश को कुछ न देकर जाएं और सरकार चाहती है कि कांग्रेस इसका विरोध भी न करे, ऐसा कैसे हो सकता है। मुख्यमंत्री बताएं कि वे घर आए प्रधानमंत्री से प्रदेश के लिए कुछ मांगने से क्यों कतराते हैं।  जिस प्रदेश के मुखिया को प्रधानमंत्री से प्रदेश के लिए मांगने में डर लगता हो तो उसे स्वयं कुर्सी छोड़ देनी चाहिए। माहौल बिगाडऩे और राजनीति करने के भाजपा के आरोपों पर राणा ने कहा कि हम राजनीतिक पार्टी से हैं और देशहित तथा जनहित की बात करना हमारा धर्म है।

देश का माहौल कौन खराब कर रहा है, इसका जवाब हिमाचल की जनता साल के अंत में विधानसभा चुनाव में पूरे देश की जनता 2024 में दे देगी।  सुजानपुर में जनहित और रोजगार देने के कामों में पिता-पुत्र अडंग़ा डालते हैं और दरी-टैंट बांट कर लोगों को गुमराह करते हैं, के भाजपा के आरोपों पर कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष ने कहा कि सुजानपुर के लोग भलीभांति जानते हैं कि सुजानपुर में विकास कार्यों को कौन रोक रहा है। रही दरियां-टैंट बांटने की तो सुजानपुर सेवा मॉडल की चर्चा हिमाचल ही नहीं, बल्कि पूरे देश में हो रही है। 

सवाल हम पूछेंगे
राणा ने कहा कि भाजपा के लोग भूल रहे हैं कि सवाल अबकी बार हम पूछेंगे जवाब उन्हें देना है और आरोपों की सूची इतनी लंबी है कि सरकार को जवाब देते नहीं बनेगा। सरकार पहले डिग्रियां बेचने वालों को बचा रही थी, अब पेपर लीक करने वालों को भी बचा रही है। मुख्यमंत्री ने कांग्रेस को दिल्ली और हिमाचल में मां-बेटे की पार्टी करार दिया है, पर राणा ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि भाजपा का परिवारवाद न देश में और न प्रदेश में किसी से छिपा है।

युवा सहयोग दें, कांग्रेस केंद्र को अग्रिपथ योजना वापस लेने के लिए मजबूर कर देगी
केंद्रसरकार की बहुप्रचारित अग्रिपथ योजना के विरोध में कांग्रेस शनिवार को भी सड़कों पर उतरी। कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने मोदी सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। गांधी चौक पर एक सभा की औरउसके बाद जिला कांग्रेस अध्यक्ष राजेंद्र जार और प्रदेश कांग्रेस कार्यकारी अध्यक्ष राजेंद्र राणा की अगुवाई में राष्ट्रपति को ज्ञापन प्रेषित किया।  इससे पहले गांधी चौक धरना स्थल पर उपस्थित कांग्रेस कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए प्रदेश कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष राजेंद्र राणा ने ठेके पर अल्पावधि के सैनिक भर्ती करने की योजना को राष्ट्रीय सुरक्षा और देश के करोड़ों युवाओं के भविष्य के साथ धोखा करार दिया। 

राणा ने युवाओं से आह्वान किया कि वे कांग्रेस के साथ आएं, कांग्रेस तानाशाही पर उतरी सरकार को इस देश विरोधी फैसले को बदलने पर मजबूर कर देगी। राणा ने कहा कि भाजपा देश को आॢथक गुलामी में धकेलने का मंसूबा बना रही है, इसलिए ऐसे जनविरोधी फैसले देश पर लाद रही है। हैरानी की बात है कि भाजपा के नेता अग्निपथ योजना को नौकरी नहीं बल्कि सेना में दिलवाया जा रहा कौशल विकास प्रशिक्षण बता रहे हैं तो सरकार यह बताए कि देश में अरबों रुपए स्किल इंडिया पर क्यों खर्च किए जा रहे हैं। 4 सालों बाद घर लौटने वाले 75 प्रतिशत युवाओं को एक्स सर्विसमैन नहीं बल्कि अग्निवीर कहा जाएगा। उनको पूर्व सैनिकों को मिलने वाली कोई सुविधा भी नहीं मिलेगी। इसका सीधा सा अर्थ है भाजपा देश में गुलाम वंश के राज को फिर वापस लाने का प्रयास कर रही है।

सेना को जवान दीजिए, गुलाम नहीं
कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष राजेंद्र राणा ने सरकार को चेताया कि सेना को जवान दीजिए, गुलाम नहीं, जिन्हें देश की सुरक्षा से ज्यादा उनके साथ 4 साल बाद क्या होगा, इसकी ङ्क्षचता होगी। केंद्र जब तक इस काले कानून को वापस नहीं लेती, कांग्रेस आंदोलनरत युवाओं को इसी प्रकार समर्थन देती रहेगी। इस अवसर पर जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष राजेंद्र जार, महासचिव जगजीत ठाकुर, शहरी इकाई अध्यक्ष शहंशाह सहित बड़ी संख्या में युवा कांग्रेस के कार्यकत्र्ता भी शामिल हुए। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Editor

rajesh kumar

Related News

Recommended News