Rajasthan School Reopening: राजस्थान में 2 अगस्त स्कूल खुलेंगे या नहीं, जानें शिक्षा मंत्री ने क्या कहा

2021-07-26T12:20:32.97

नेशनल डेस्क: राजस्थान में लॉकडाउन के कारण बंद स्कूल व अन्य शिक्षण संस्थान अभी नहीं खुलेंगे। इस बारे में कोई भी फैसला करने से पहले केंद्र सरकार से राय ली जाएगी। इस विषय पर गठित उच्च स्तरीय मंत्री समूह की बैठक में शनिवार को यह फैसला किया गया। इसके अनुसार उच्च शिक्षा संस्थानों में कक्षाएं शुरू करने का निर्णय भी 15 दिन बाद किया जाएगा। उल्लेखनीय है कि राज्य के स्कूली शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने बृहस्पतिवार को राज्य मंत्रिपरिषद की बैठक के बाद कहा था कि सभी स्कूल दो अगस्त से खुलेंगे। मंत्रिपरिषद ने कोरोना वायरस महामारी की दूसरी लहर के बाद राज्य में विद्यालयों तथा अन्य शैक्षणिक संस्थानों को शिक्षण कार्य के लिए खोलने पर सैद्धांतिक सहमति जताई। हालांकि बाद में इस मुद्दे पर विवाद खड़ा होने पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने शुक्रवार को पांच सदस्यों की उच्च स्तरीय समिति गठित की। 

एक सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि प्रदेश में शिक्षण संस्थाओं को खोलने की तिथि और मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) निर्धारित करने के संबंध में मुख्यमंत्री द्वारा गठित मंत्री समूह की बैठक शनिवार को चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ. रघु शर्मा के राजकीय आवास पर हुई। बैठक में राज्य में शिक्षण संस्थाओं को खोलने के संबंध में विभिन्न पहलुओं पर विस्तार से विचार-विमर्श किया गया। इसके अनुसार उच्च शिक्षा के संबंध में हुई चर्चा के अनुसार इस समय अंतिम वर्ष की परीक्षाएं चल रही हैं। उच्च माध्यमिक कक्षाओं के परिणाम घोषित होने के बाद अब ऑनलाइन प्रवेश की प्रक्रिया शुरू की जा रही है। इसे दृष्टिगत रखते हुए उच्च शिक्षा संस्थानों में कक्षाएं शुरू करने का निर्णय 15 दिन बाद किया जाएगा। वहीं प्रारंभिक व माध्यमिक शिक्षा से संबंधित शिक्षण संस्थानों में कक्षाएं शुरू करने के लिए केंद्र सरकार से अभिमत लिया जाएगा। केंद्रीय विद्यालयों, नवोदय विद्यालयों, सैनिक स्कूल आदि के साथ ही केंद्र शासित प्रदेशों तथा अन्य राज्यों के विद्यालयों में कक्षाएं प्रारंभ करने के अनुभव और फीडबैक लेकर निर्णय किया जाएगा। 

इसके अतिरिक्त केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय, एम्स एवं प्रदेश के विशेषज्ञ चिकित्सकों से भी राय ली जाएगी। केंद्र की ओर से जारी दिशा-निर्देशों की जानकारी लेकर प्रारंभिक एवं माध्यमिक शिक्षण संस्थाओं में कक्षाएं प्रारंभ करने की तारीख एवं एसओपी के संबंध में निर्णय किया जाएगा। बैठक में शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा, कृषि मंत्री लालचंद कटारिया, उच्च शिक्षा राज्य मंत्री भंवरसिंह भाटी शामिल हुए। इससे पहले डोटासरा ने शनिवार को कहा कि इस बारे में अंतिम फैसला मुख्यमंत्री अशोक गहलोत करेंगे। डोटासरा ने शनिवार को ट्वीट किया, ‘‘स्कूल खोलने को लेकर विस्तृत प्रक्रिया एसओपी बनाने के लिए गठित मंत्रिमंडल की समिति की बैठक में सभी पहलुओं पर चर्चा के बाद मुख्यमंत्री गहलोत स्कूल खोले जाने की तारीख और स्वरूप पर निर्णय करेंगे।'' इसके साथ ही डोटासरा ने कहा कि बच्चों की सुरक्षा और पढ़ाई दोनों हमारी सरकार की प्राथमिकता में है। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Anil dev

Recommended News