Weekly Horoscope: मार्च महीने का ये सप्ताह होगा इन राशि वालों के लिए खास

2020-03-23T10:52:53.107

शास्त्रों की बात, जानें धर्म के साथ
आज 23 मार्च दिन सोमवार चैत्र कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी तिथि है। जैसे कि सब जानते ही हैं कि इस महीने बहुत से ऐसे व्रत व त्योहार पड़ रहें हैं, जिनके बारे में शायद कम लोगों को जानकारी होगी। ये महीना चैत्र व वैशाख का है। ऐसे बहुत से व्रत व त्योहार हैं जोकि पूरे देश में बड़ी धूम-धाम के साथ मनाए जाते हैं। बता दें कि ये सप्ताह 23 से 28 मार्च तक चलेगा। इसके साथ ही अपना राशिफल जानने के लिए यहां क्लिक करें।
हिंदू पंचांग के अनुसार चैत्र कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी तिथि है। इसके साथ ही दर्श अमावस्या का पर्व है। हिंदू शास्त्रों के अनुसार ये दिन बहुत शुभ होता है। इस दिन पितरों को प्रसन्न करना बहुत आसान होता है इसलिए इसे श्राद्ध की अमावस्या भी कहा जाता है। कुछ विद्वान तो यहां तक कहते हैं की इस दिन पूर्वज धरती पर आते हैं। अपने बड़े-बुजुर्गों के लिए इस दिन भोजन जरुर निकालना चाहिए।
Follow us on Twitter
25 मार्च से इस साल के चैत्र नवरात्रि प्रारंभ होने जा रहे हैं। मां के भक्तों को पूरे साल भर इनका बेसब्री से इंतज़ार रहता है। मां दुर्गा की आराधना व पूजा करने के लिए नवरात्रि का पर्व बहुत ही शुभ माना गया है। बहुत से लोग नवरात्रि के पूरे नौ दिनों तक ही व्रत रखते हैं, ताकि मां की अपार कृपा उन्हें मिल सके। वहीं अगर नवरात्रि में दुर्गा सप्तशती का पाठ करते या सुनते हैं, तो आपकी सभी मनोकामनाएं पूर्ण होती है और मां का आशीर्वाद भी मिलता है।
Follow us on Instagram
गणगौर राजस्थान एवं मध्य प्रदेश का एक त्यौहार है जो चैत्र महीने की शुक्ल पक्ष की तीज को आता है। इस दिन कुवांरी लड़कियां एवं विवाहित महिलायें शिवजी और पार्वती जी की पूजा करती हैं। पूजा करते हुए दूब से पानी के छांटे देते हुए गोर गोर गोमती गीत गाती हैं। इस दिन पूजन के समय रेणुका की गौर बनाकर उस पर महावर, सिंदूर और चूड़ी चढ़ाने का विशेष महत्व है। चंदन, अक्षत, धूपबत्ती, दीप, नैवेद्य से पूजन करके भोग लगाया जाता है।


Lata

Related News