13 जनवरी 2020 को ही रखा जाएगा, श्री गणेश संकट चौथ व्रत

2020-01-13T07:31:14.797

शास्त्रों की बात, जानें धर्म के साथ
माघ मास में करें स्नान, दान व हवन यज्ञ, पाएं पुण्यफल
जालंधर (वीना): श्री कृष्ण संकीर्तन मंदिर, सैदां गेट के पंडित आदित्य प्रकाश शुक्ला के अनुसार श्री गणेश संकट चतुर्थी यानी संकट चौथ का व्रत 13 जनवरी को होगा तथा उसी दिन लोहड़ी उत्सव भी होगा, जबकि 14 जनवरी को मकर संक्रांति है तथा उसी दिन सूर्य मकर राशि में प्रवेश करेगा तथा माघी पर्व भी मनाया जाएगा। उन्होंने कहा कि 13 जनवरी को सायं चन्द्रोदय रात्रि 8:40 पर होगा तथा व्रत करने वाले भक्त उस समय श्री गणेश जी का पूजन करके व्रत की कथा करेंगे और चन्द्रमा को अध्र्य देकर ही फलाहार करेंगे। पंडित शुक्ला ने कहा कि 14 जनवरी को माघी है और उसी दिन से माघ स्नान आरम्भ होगा। 
Follow us on Twitter
PunjabKesari
माघ स्नान की महिमा
माघ मास को पुण्यमास कहा जाता है, इस दिन से प्रात: माघ मास का स्नान आरम्भ हो जाता है तथा भगवान विष्णु जी का पूजन, पाठ और हवन यज्ञ आदि शुभ कर्म शुरू किए जाते हैं। इस मास में हरिद्वार, प्रयागराज, काशी व कुरुक्षेत्र आदि तीर्थ स्थानों पर जाकर स्नान करने का करोड़ों गुना अधिक पुण्यफल मनुष्य को प्राप्त होता है। इस दिन से सूर्य स्तोत्र आदि का जहां पाठ किया जाता है वहीं तिल, गर्म वस्त्र, अनाज, गुड़, शक्कर, मौसम के फल व देसी घी के दान की अत्यधिक महिमा है। ब्राह्मणों को दक्षिणा सहित दान करना चाहिए। पंडित शुक्ला ने कहा कि जो लोग किसी कारणवश तीर्थ स्थान आदि पर न जा सकें वह मन में ही सच्चे भाव से संकल्प करके प्रात: सूर्योदय से पूर्व घर में ही स्नान करके पुण्य के भागी बन सकते हैं।
Follow us on Instagram


Lata

Related News