See More

गुस्सैल और क्रूर स्वभाव के शनि इन 4 से खाते हैं भय, क्या है इसका रहस्य

2020-05-22T12:06:50.38

शास्त्रों की बात, जानें धर्म के साथ
जब भी कर्मों को फल दाता शनि देव की बात होती है तो हर किसी के मन में एक डर पैदा हो जाता है। इनके क्रूर के स्वभाव के कारण ही हर कोई इनसे भय खाता है। यूं तो इन्हें हिंदू धर्म के शास्त्रों व ग्रंथों में इन्हें न्याय के देवता कहा जाता है, यानि वो देव जो केवल मनुष्य को उसके कर्मों के हिसाब से फल देते हैं। परंतु शनि देव उग्र देव माने जाते हैं इसलिए इनसे डरना लाज़िमी है। मगर क्या आप जानते हैं हर किसी के मन में भय पैदा करने वाले शनि देव के मन में एक नहीं बल्कि कितनों के प्रति भय हैं। जी हां, आपको जानकर हैरानी होगी मगर धार्मिक मान्यताओं के अनुसार गुस्सैल स्वाव के स्वामी शनि देव भी किसी से डरते हैं। हम जानते हैं आप विस्तारपूर्वक इस बारे में जानना चाहेंगे तो बता दें आपकी इस उत्सुक्ता को हम ज़रूर पूरा करेंगे।

कृष्‍ण जी से डरते हैं शनिदेव
धार्मिक मान्यताओं के अनुसार श्रीकृष्‍ण को शनिदेव का इष्‍ट कहा जाता है। ऐसा माना जाता है प्राचीन समय में शनि देव ने अपने इष्‍ट का दर्शन पाने के लिए कोकिला वन में तपस्‍या की थी। जिसके बाद श्रीकृष्‍ण जी ने शनिदेव के कठोर तप से प्रसन्‍न होकर उन्हें कोयल के रूप में दर्शन दिए। ऐसी मान्यता है कि तब शनिदेव ने कहा था कि अब से वह श्रीकृष्‍ण जी के भक्‍तों को कभी परेशान नहीं करेंगे।
PunjabKesari, Sri Krishan, श्री कृष्ण, Sri krishna
अपनी पत्‍नी से डरते हैं शनिदेव
कहा जाता है शनि महाराज अपनी पत्नी से भय खाते हैं। यही कारण है ज्योतिषशास्त्र में शनि की दशा में शनि पत्नी का नाम मंत्र जपना भी अधिक आवश्यक माना जाता है। कथाओं के अनुसार प्राचीन समय में शनि पत्नी ऋतु स्नान करके शनि महाराज के पास आई मगर शनि देव अपने ईष्ट देव श्री कृष्ण के ध्यान में लीन थे जिसकी वजह से उन्होंने अपनी पत्नी की ओर देखा तक नहीं। जिससे क्रोधित होकर शनि देव ने अपनी पत्नी ने शाप दे दिया था।
PunjabKesari, Shani dev, Shani, शनि, शनि देव, Shani Dev
देवों के देव महादेव से भी डरते हैं शनि
धार्मिक ग्रंथों की मानें तो सूर्यदेव के कहने पर शनिदेव को बचपन में सबक सिखाने के लिए एक शिव जी ने उन पर प्रहार किया था। जिससे शनिदेव बेहोश हो गए जिसके बाद पिता सूर्य देव ने उनसे विनती की, जिसके बाद शिवजी ने वापस उन्‍हें सही किया। तब से मान्‍यता प्रचलित हुई है कि शनिदेव शिव जी को अपना गुरु मानकर उनसे डरने लगे।
PunjabKesari, महादेव, शिव जी, lord shiva
पीपल से डरते हैं शनिदेव
शनिदेव को पीपल से भी डर लगता है यही वजह है कि शनिवार व मंगलवार के दिन पीपल के पेड़ के नीचे सरसों के तेल का दीपक जलाया जाता है\
PunjabKesari, Peeple Tree, पीपल का पेड़, पीपल


Jyoti

Related News