Sakat Chauth: घर के ईशान कोण में करें ये काम, धन संबंधित हर समस्या का होगा नाश

punjabkesari.in Friday, Jan 21, 2022 - 08:25 AM (IST)

शास्त्रों की बात, जानें धर्म के साथ

Sakat Chauth 2022: हर वर्ष सकट चौथ का व्रत माघ महीने के कृष्ण पक्ष की चतुर्थी तिथि पर रखा जाता है। इस वर्ष चतुर्थी तिथि 21 जनवरी की सुबह 08 बजकर 51 मिनट से शुरू होकर अगले दिन 22 जनवरी की सुबह 09 बजकर 14 मिनट तक रहेगी। वर्तमान काल में चल रहे ग्रह गोचर के हिसाब से यह समय संतान से संबंधित कष्टों को अधिक बढ़ाने वाला चल रहा है। इस समय के दौरान आप देखेंगे कि कई प्रकार के दुर्घटनाएं स्वास्थ्य, व्यापार और धन संतति संबंधित परेशानियां लोगों के जीवन में अचानक से खड़ी हो जाएंगी। ऐसे में सकट चौथ का यह व्रत करने से एक और भगवान गणेश की कृपा प्राप्त होगी तो दूसरी ओर ग्रहों का उपचार भी करने के लिए यह दिन अति शुभ है। इस समय ग्रहों की स्थिति दांपत्य जीवन, व्यापार और धन को भी प्रभावित करेगी इसलिए इस वर्ष सकट चौथ के इस पवित्र अवसर पर आप कुछ खास उपाय व नियमों का पालन करके बहुत सारी परेशानियों से मुक्ति पा सकते हैं।

PunjabKesari Sakat Chauth

Sakat Chauth upay: वैसे तो सकट चौथ का व्रत संतान प्राप्ति, संतान की दीर्घायु और संतति संबंधित सभी परेशानियों से मुक्ति देने वाला है परंतु सकट चौथ के खास अवसर पर भगवान गणेश की पूरी विधि से पूजा करने से केतु महाराज भी प्रसन्न होते हैं। देवताओं में सर्वप्रथम पूज्य होने के कारण बाकी ग्रहों की भी शांति होती है।

सकट चौथ के दिन सुबह उठकर व्रति व्रत का संकल्प करते हैं और पूरी विधि-विधान से एक लाल चौंकी पर भगवान गणेश की मूर्ति अथवा स्वास्तिक बनाकर पूजन सामग्री उस पर अर्पण करते हैं। जो लोग व्रत नहीं कर रहे हैं, वह सकट चौथ के दिन लाल सूती कपड़े का 1 आसन बिछाकर, उस पर 5 सुपारी रख के घर में बने शुद्ध भोजन का भोग लगाएं।

PunjabKesari Sakat Chauth

इन 5 सपारियों के नीचे एक एक पान का पत्ता, रक्षा सूत्र, जनेऊ, सिंदूर, लॉन्ग, इलायची, पुष्प, लाल चंदन, अष्टगंध, तिलक इत्यादि चढ़ाकर भगवान गणेश को अर्पण करें व उनका ध्यान करें।

इस आसन को आप अपने घर के ईशान कोण पर भी बना सकते हैं अथवा जहां कहीं भी आपका पूजा स्थल है वहां पर बैठकर आप भगवान गणेश की पूजन कर सकते हैं। सकट सकट चौथ के दिन भगवान गणेश की मूर्ति की आगे 101 ढाक के पत्तों पर मिठाई रखकर भगवान गणेश जी को भोग लगाने से धन-धान्य की वृद्धि होती है, व रुके हुए व्यापार को आगे बढ़ाने में यह उपाय अत्यंत उपयोगी है।

सकट चौथ के दिन आप अपने शरीर की लंबाई के अनुसार एक सूत्र लें, उसको 4 मर्तबा लपेट कर उस सूत को पीले रंग में रंगे इसके पश्चात उस सूत में पांच हल्दी की गांठ को बांधकर भगवान गणेश के दाहिने हाथ के नीचे रख दें ऐसा करने से कर्ज मुक्ति मिलती है, जिन लोगों को नौकरी संबंधित दिक्कतें आ रही हैं वह लोग भी यह उपाय कर सकते हैं।

नीलम
8847472411

PunjabKesari Sakat Chauth


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Niyati Bhandari

Related News

Recommended News