See More

बड़ी से बड़ी मुश्किल हो जाती है दूर जिसमें होता है ये गुण

2020-06-20T10:22:22.257

शास्त्रों की बात, जानें धर्म के साथ
यूनान के महान दार्शनिक थे सुकरात। उनकी पत्नी झगड़ालू थी। वह छोटी-छोटी बातों पर अमूमन सुकरात से लड़ती थी लेकिन हर समय सुकरात शांत रहते। सुकरात के पढ़ने की आदत पत्नी को ठीक नहीं लगती थी।
PunjabKesari, Motivational Concept, Inspirational Theme, Motivational Concept, Inspirational Concept, Tolerance power, सहनशीलता, Punjab Kesari, Dharm
एक दिन सुकरात अपने कुछ शिष्यों के साथ घर आए तो पत्नी किसी बात को लेकर नाराज हो गई। सुकरात ने इस बात पर ध्यान नहीं दिया लेकिन वह ऊंची आवाज में सुकरात को भला-बुरा कहने लगी। इतना कुछ होने पर भी सुकरात कुछ न बोले तो उनकी पत्नी ने बाहर से कीचड़ उठाकर सुकरात के मुंह पर डाल दिया।

सुकरात जोर से हंसे और कहा, ‘‘तुमने आज पुरानी कहावत झुठला दी। कहा जाता है कि जो गरजते हैं बरसते नहीं लेकिन तुम गरजती भी हो और बरसती भी हो।’’
PunjabKesari, Motivational Concept, Inspirational Theme, Motivational Concept, Inspirational Concept, Tolerance power, सहनशीलता, Punjab Kesari, Dharm
सभी शिष्य यह घटनाक्रम देख रहे थे। एक शिष्य ने सुकरात से पूछा, ‘‘आप ये सब कैसे सह लेते हैं?’’

सुकरात बोले, ‘‘वह योग्य है। वह ठोकर लगाकर देखती है कि सुकरात कच्चा है या पक्का। उसके इस व्यवहार से मुझे पता चलता है कि मेरे अंदर सहनशीलता है या नहीं। ऐसा करके वह मेरा भला कर रही है।’’ पत्नी ने जब ये शब्द सुने तो वह शॄमदा हुई।

उसने कहा, ‘‘मुझे क्षमा करें। आप देवता हैं, मैंने यह जानने में भूल की।’’ उस दिन से पत्नी का व्यवहार बदल गया।
PunjabKesari, Motivational Concept, Inspirational Theme, Motivational Concept, Inspirational Concept, Tolerance power, सहनशीलता, Punjab Kesari, Dharm
शिक्षा : सहनशीलता एक ऐसा गुण है, यदि इसे विकसित कर लिया जाए तो बड़ी से बड़ी मुश्किल दूर की जा सकती है। 
 


Jyoti

Related News