Geeta Jayanti 2019: श्रीमद्भगवद्गीता से जुड़ी ये बातें नहीं जानते होंगे आप

12/7/2019 12:14:25 PM

शास्त्रों की बात, जानें धर्म के साथ
कहते हैं कि अगर किसी के जीवन में किसी तरह की कोई परेशानी चल रही हो तो श्रीमद्भगवद्गीता का पाठ करने से वे दूर हो जाती है। श्रीमद्भगवद्गीता ज्ञान का अद्भुत भंडार है। अगर कोई व्यक्ति अपने जीवन में इसे उतार ले तो उसका जीवन निखर सकता है। गीता कहती है कि जीवन रोने के लिए नहीं, भाग जाने के लिए नहीं है, हंसने और खेलने के लिए हैं। किसी भी परेशानी का समाधान सिर्फ और सिर्फ गीता में ही है। इस बात को जो व्यक्ति समझ लेता है, उसके सारे दुख व परेशानियां दूर हो जाती हैं। गीता में भगवान ने कहा है कि धैर्य के बिना अज्ञान, दुख, मोह, क्रोध, काम और लोभ से निवृत्ति नहीं मिलेगी। इसके साथ ही आज हम आपको गीता में से जुड़ी कुछ खास बातों के बारे में बताने जा रहे हैं।
PunjabKesari, Geeta Jayanti 2019, श्रीमद्भगवद्गीता, gita jayanti 2019, गीता जयंती 2019
श्रीमद्भगवद्गीता एक दिव्य ग्रंथ है। यह हमें पलायन से पुरुषार्थ की ओर अग्रसर होने की प्रेरणा देती है।

गीता जयंती मार्गशीर्ष शुक्ल एकादशी को मनाई जाती है और इसी दिन मोक्षदा एकादशी का व्रत किया जाता है।

श्रीमद्भगवद्‌गीता हिन्दुओं के पवित्रतम ग्रंथों में से एक है। गीता एकमात्र ऐसा ग्रंथ है, जिसकी जयंती मनाई जाती है।

श्रीमद्भगवद्गीता की पृष्ठभूमि महाभारत का युद्ध है। इसके 18 अध्याय हैं और महाभारत का युद्ध भी 18 दिन ही चला था।
PunjabKesari, Geeta Jayanti 2019, श्रीमद्भगवद्गीता, gita jayanti 2019, गीता जयंती 2019
अर्जुन को भगवान श्रीकृष्ण ने गीता का उपदेश दिया था।

गीता में कर्तव्य को ही धर्म कहा गया है। भगवान कहते हैं कि अपने कर्तव्य को पूरा करने में कभी भी लाभ-हानि का विचार नहीं करना चाहिए।

भगवान ने अर्जुन को निमित्त बनाकर, गीता के ज्ञान द्वारा विश्व के मानव को पुरुषार्थ करने की प्रेरणा दी है।

गीता केवल धर्म ग्रंथ ही नहीं यह एक अनुपम जीवन ग्रंथ है। जीवन उत्थान के लिए इसका स्वाध्याय हर व्यक्ति को करना चाहिए।
PunjabKesari, Geeta Jayanti 2019, श्रीमद्भगवद्गीता, gita jayanti 2019, गीता जयंती 2019
गीता के 700 श्लोकों में हर उस समस्या का समाधान है, जो हर इंसान के सामने कभी न कभी आती हैं।


Lata

Related News