एक ऐसा स्थान जहां मात्र 11 रुपए में मिलता है "पाप मुक्ति Certificate"

12/3/2019 1:48:35 PM

शास्त्रों की बात, जानें धर्म के साथ
आज के समय में ऐसा कोई व्यक्ति नहीं है, जिसने कभी कोई पाप न किया हो। हर किसी ने किसी न किसी रूप में पाप जरूर किए होते हैं। वहीं जो लोग मन से सही होते हैं वे अपने पापों से मुक्ति पाने के लिए भगवान से प्रार्थना करते हैं या फिर गंगा जी में स्नान करते हैं, ताकि उनके पाप धूल जाएं, क्योंकि हिंदू शास्त्रों में ऐसा माना गया है कि गंगा स्नान करने से व्यक्ति को उसके पापों से मुक्ति मिलती है। लेकिन आज हम आपको एक ऐसे मंदिर के बारे में बताने जा रहे हैं, जहां स्थापित एक कुंड में स्नान करने से भी इंसान के सारे पाप नष्ट हो जाते हैं। 
PunjabKesari
वैसे तो पूरे भारत देश में बहुत से शिव मंदिक विख्यात हैं, लेकिन राजस्थान के उदयपुर में स्थित एक शिव मंदिर की बात ही सबसे जुदा है। इस मंदिर के प्रांगण में एक कुंड है, जहां नहाने से व्यक्ति के पापों का सफाया हो जाता है। इतना ही नहीं यहां आने वाले श्रद्धालुओं को पाप मुक्ति सर्टिफिकेट देने की भी व्यवस्था है। जी हां, आपको जानकर हैरानी होगी कि जो लोग कुंड में स्नान करने आते हैं, उनको बाद में सर्टिफिकेट भी मिलता है। 
PunjabKesari
उदयपुर में स्थित इस शिव मंदिर का नाम गौतमेश्वर महादेव पापमोचन तीर्थ है। यह मंदिर प्रतापगढ़ जिले में पड़ता है। कहते हैं कि इस मंदिर के कुंड में डुबकी लगाने वाले शख्स को 'पाप मुक्ति' सर्टिफिकेट से नवाजा जाता है और इसके बदले में उसे केवल 11 रुपये देने होते हैं। बता दें कि इस मंदिर में आजादी के समय से ही डुबकी लगाने और सर्टिफिकेट पाने वालों का रिकॉर्ड दर्ज है। इस तीर्थ को आदिवासियों के हरिद्वार के तौर पर जाना जाता है और यहां हर साल मई में मेला लगता है और लाखों की संख्या में श्रद्धालु यहां आते हैं।
PunjabKesari
हिंदू धर्म में प्रचलित कथाओं के अनुसार यहां गौतम ऋषि ने एक जानवर की हत्या के बाद दोषमुक्ति के लिए डुबकी लगाई थी। मंदिर के पुजारी का दावा है कि जिन लोगों को समाज से बाहर निकाल दिया जाता है वे मंदाकिनी कुंड में डुबकी लगाने के साथ पाप मुक्ति का प्रमाणपत्र हासिल करते हैं और फिर गांव लौट जाते हैं।

 


Lata

Related News