Chanakya Niti: मैरिड लाइफ को खुशहाल बनाने के लिए करें ये काम

punjabkesari.in Thursday, Aug 05, 2021 - 12:39 PM (IST)

शास्त्रों की बात, जानें धर्म के साथ
आचार्य चाणक्य ने अपने नीति सूत्र में मानव जीवन से जुड़े कई सूत्र बताए हैं। बल्कि कहा जाता है कि इन्हीं सूत्रों में मानव जीवन की कई प्रॉ़बल्म्स के हल छिपे हैं। आज हम आपको बताने वालेे हैं वर्तमान समय की सबसे परेशान कर देने वाली परेशानी के बारे में। जी हां, वर्तमान समय में होने वाली शादियां कही न कहीं आगे चलकर परेशानियां खड़ी करती हैं। क्योंकि आज कल की जेनरेश्न में  सहन शीलता आदि जैसे गुण नहीं है जिस कारण वह अपने शादी को निभा नहीं पाते। ऐसे में चाणक्य नीति सूत्र में दी गई बातों को व्यक्ति को अपनाना चाहिए। चाणक्य कहते हैं कि पति-पत्नी का रिश्ता सबसे मजबूत रिश्तों में से एक होता है। इसलिए प्रत्येक व्यक्ति को इस रिश्ते की गरिमा और मर्यादा का विशेष ध्यान रखना चाहिए। तथा इसे तनाव और कलह से दूर रखने का प्रयास करना चाहिए। मगर कैसे आइए जानते हैं-

चाणक्य के अनुसार पति और पत्नी के रिश्ते में संवादहीनता की स्थिति कभी पैदा नहीं होनी चाहिए। इससे रिश्ते में कमजोरी पैदा होती है। इसलिए पति और पत्नी के रिश्ते में सुखद माहौल में बातचीत का क्रम जारी रहना आवश्यक है। 

हर रिश्ते में आदर सम्मान का होना जरूरी होती है, परंतु पति-पत्नी के रिश्ते में इसका होना सबसे अधिक जरूरी होता है। क्योंकि अगर इस रिश्ते में अगर इसकी कमी हो तो नजदीकियां दूरियों में बदल जाती हैं। 

दांपत्य जीवन को सुखज बनाने के लिए प्रेम और समर्पण का भाव अत्यंत आवश्यक होता है। अगर इन दोनों में कमी आ जाए तो दांपत्य जीवन में दिक्कतें आना आरंभ हो जाती हैं, जो आगे चलकर तनाव को पैदा करता है। 

चाणक्य के अनुसार मैरिड लाइफ को खुशहाल बनाने की जिम्मेदारी किसी एक की नहीं होती है बल्कि इस रिश्ते को मजबूत बनाने की जिम्मेदारी पति और पत्नी की ही होती है। इसलिए हमेशाा महत्वपूर्ण विषयों में एक दूसरे की राय का ध्यान अवश्य रखें।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Jyoti

Related News

Recommended News