कोरोना प्रकोप: संक्रमण रोकने के लिए ऑनलाइन होंगे देवी मंदिरों के दर्शन-पूजन

2021-04-13T12:46:46.127

शास्त्रों की बात, जानें धर्म के साथ
नई दिल्ली: कोरोना महामारी के बढ़ते प्रकोप के बीच आज से शुरू हो रहे चैत्र नवरात्रि को देखते हुए राजधानी के मंदिरों ने विशेष इंतजाम किए हैं। दिल्ली के झंडेवालान मंदिर जहां श्रद्धालुओं के लिए बंद रहेगा। वहीं कालका जी मंदिर में वेबसाइट से ई-पास लेकर श्रद्धालु दर्शनों को जा सकेंगे। हालांकि छतरपुर मंदिर भी पूर्ण रूप से बंद कर दिया गया है। दिल्ली के कुछ मंदिरों ने सोमवार तक कोरोना के लिए कोई गाइडलाइन जारी नहीं की है हालांकि सेनेटाइजर और तापमान चेकिंग के साथ वहां दर्शन किए जा सकेंगे, लेकिन श्रद्धालु सामाजिक दूरी का पालन करें, ताकि कोरोना के मामलों की संख्या में वृद्धि न होने पाए।

श्रद्धालुओं के लिए छतरपुर मंदिर भी बंद किया गया
छतरपुर मंदिर के प्रवक्ता डॉ. किशोर चावला ने कहा कि यहां हर नवरात्रि पर हजारों श्रद्धालुओं की भीड़ होती है। कोरोना को देखते हुए मंदिर प्रशासन ने श्रद्धालुओं के लिए मंदिर को पूर्णरूप से बंद करने का फैसला किया है। मंदिर में पूजा पाठ होता रहेगा, जिसका प्रसारण मंदिर के यूट्यूब चैनल, वेबसाइट और फेसबुक पेज

कालकाजी मंदिर में ई-पास लेकर किए जा सकेंगे दर्शन
कालकाजी मंदिर के महंत सुरेंद्र नाथ अवधूत ने बताया कि इस बार कोरोना महामारी को देखते हुए मंदिर की आधिकारिक वेबसाइट पर ऑनलाइन ई-पास सिस्टम लागू किया गया है। जो श्रद्धालु ई-पास लेेंगे उन्हें दर्शनों का समय दिया जाएगा। ऐसे में मंदिर आने के इच्छुक श्रद्धालु हमारी वेबसाइट पर जाकर ई-पास प्राप्त कर सकते हैं। मंदिर में सुरक्षा के लिहाज से सीसीटीवी लगवाए गए हैं। सामाजिक दूरी का पालन, मॉस्क, तापमान चेकिंग मंदिर आने वाले हर श्रद्धालु के लिए अनिवार्य होगा।

अगले आदेश तक झंडेवालान मंदिर बंद
बद्री भगत झंडेवालान टेम्पल सोसायटी के जारी एक सूचना में मंदिर के अगले आदेश तक बंद रखने की घोषणा की गई है। झंडेवाला देवी मंदिर के सचिव ने सोमवार को इस बारे में बताते हुए कहा कि कोविड-19 के बढ़ते हुए खतरे और आने वाले भक्तों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए सरकार के दिशा निर्देशों के अनुसार झंडेवालान देवी मंदिर सोमवार शाम आरती के बाद दर्शनों के लिए अगले आदेश तक बंद रखने का फैसला किया गया है। इस अवधि में मंदिर में केवल अर्चकों का नियमानुसार पूजा पाठ होता रहेगा, जिसका प्रसारण मंदिर के यूट्यूब चैनल, वेबसाइट और फेसबुक पेज पर प्रसारित किया जाएगा। भक्तों को हुई असुविधा के लिए हमें खेद है। मां झंडेवाली शीघ्रता से राजधानी दिल्ली और इस भयानक महामारी से हमें मुक्ति दिलाकर सुरक्षा प्रदान करें।


Content Writer

Jyoti

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News

static