एनआरआई की कोठी में लाखों की चोरी करने वाले तीन आरोपी गए जेल

punjabkesari.in Friday, Dec 03, 2021 - 01:39 PM (IST)

चंडीगढ़ /सुशील राज। सेक्टर 36 स्थित एनआरर्आ की कोठी मेें बुजुर्ग मां और बेटे को खाने मेें नशीला पदार्थ खिलाकर लाखों की चोरी करने के मामले में पांच लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस नेपाल के कैली निवासी मिलन सोनी (19) और दोटी निवासी दिपेंदरा बहादुर उर्फ बसंत को सैक्टर 43 बस स्टैड़ से काबू किया जबकि मुंबई निवासी दिलीप उपाध्य ,बगलौर निवासी लोकेंदरा स्वार और वेस्ट मुंबई निवासी विष्णु सोदारी को मुंबई की आथर जेल के पास गिरफ्तर किया है। पुलिस ने तीनों को प्रोडक्शन वारंट पर 28 नवंबर को लेकर आई और रिमांड लेने के बाद उन्हें पूछताछ के बाद वीरवार को  जिला अदालत में पेश किया। अदालत ने तीनों आरोपियों को न्यायिक हिरासत में भेज दिया। पुलिस ने बताया कि पकड़ा गया एक आरोपी दिलीप उपाध्य छोटा राजन गैंग का सदस्य है।


सैक्टर 36 थाना प्रभारी जसपाल सिंह को सूचना मिली कि सैक्टर 36 स्थित कोठी से लाखों की नकदी चोरी करने वाले गिरोह के सदस्य सेक्टर 43 में घूम रहे है। पुलिस टीम ने 22 नवंबर को बस स्टैड़ के पास नाका लगाकर उन्हें गिरफ्तार कर लिया। पकड़े गए आरोपियों की पहचान नेपाल के कैली निवासी मिलन सोनी (19) और दोटी निवासी दिपेंदरा बहादुर उर्फ बसंत के रूप में हुई। पूछताछ में उन्होंने बताया कि चोरी की वारदात  में गिरोह के अन्य सदस्य भी शामिल है जो महाराष्ट्र , दिल्ली और नेपाल फरार हो गए है। 24 नंवबर को सूचना मिली कि गिरोह के तीन सदस्य मुंबई स्थित चमूर थाने में एक  करोड़ की चोरी मामले में जमानत मिल रही है। पुलिस टीम मुंबई की ओथर जेल के पास पहुंची और 25 नंवबर को तीन आरोपी मुंबई निवासी दिलीप उपाध्य ,बगलौर निवासी लोकेंदरा स्वार और वेस्ट मुंबई निवासी विष्णु सोदारी को गिरफ्ता कर प्रोडक्शन वारंट पर लेकर आई। आरोपियों ने बतायाकि दिपेंदरा बहादुर उर्फ बसंत काम करता था।

 

उसके कहने पर 6 महीने पहले ही मिलन को काम पर रखा था। उन्होंने बताया कि लूट की वारदात को अंजाम देने के लिए गिरोह के सदस्य 15 अक्तूबर के सदस्य तीन गुटो में दिल्ली से चंडीगढ़ पहुंचे थे। सभी लोग बुडै़ल के अलग अलग होटलों में ठहरे थे। लुट की वारदात करने से पहले सभी सदस्य ने सैक्टर 35 के पार्क में बैठक की। रात को मिलन ने खाने में नशीला पदार्थ मिलाया ओर उसके बाद गिरोह के अन्य सदस्य कोठी पर पहुंचे और वारदात को अंजाम देकर फरार हो गए थे।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Sushil Raj

Related News

Recommended News