5 करोड़ की ठगी: आरोपी को मिली जेल में सुबह-शाम सैर करने की मंजूरी

punjabkesari.in Saturday, Dec 04, 2021 - 01:49 PM (IST)

चंडीगढ़,(संदीप): 5 करोड़ की धोखाधड़ी मामले में आरोपी रामलाल चौधरी की अर्जी पर अदालत ने जवाब दाखिल करने के लिए जेल सुपरिटेंडेंट को नोटिस किया था। सुपरिटेंडेंट ने अपनी और मैडीकल ऑफिसर की रिपोर्ट जमा करवाई है। रिपोर्ट में कहा है कि राम लाल का क्वारंटाइन समय समाप्त होने के बाद सामान्य बैरेक में शिफ्ट कर दिया गया है। जहां वह योगा, व्यायाम और सैर कर सकता है। सेहत को ध्यान में रखते हुए सैर करने की अनुमति दे दी गई है। 
गौरतलब है कि वकील ने अर्जी में कहा कि रामलाल हाईपरटैंशन व डायबिटीज का मरीज है। डॉक्टरों ने सुबह और शाम को एक-एक घंटे सैर की सलाह दी है ताकि ब्लड प्रैशर और शूगर लैवल कंट्रोल में रहे। एडवोकेट अरुण वोहरा ने एप्लीकेशन के साथ मैडीकल रिकॉर्ड भी अटैच किया था। वोहरा ने कहा कि रामलाल जेल में है और अपनी रूटीन को फॉलो नहीं कर पा रहा है जबकि सुबह-शाम की सैर जरूरी है।  इसलिए अदालत से मांग की है कि बुड़ैल जेल सुपरिटेंडेंट को इस संबंध में निर्देश दिए जाएं। 

यह है मामला
गुरुग्राम निवासी ने राम लाल चौधरी के खिलाफ उसके साथ इन्वेस्ट करवाने के नाम पर 5 करोड़ की ठगी की शिकायत दी थी। यह राशि उसने अपने मुंबई का फ्लैट बेचकर है जो कि उसने लोन लेकर खरीदा था। इसके इलावा अपनी निजी ४वेलरी, अपनी बचत के पैसे, अपने पिता से लिए हुए पैसे, इक_े करके राम लाल को दिए थे। कई बार राम लाल चौधरी का बेटा गुरु ग्राम  हाईवे पर उनसे पैसें लेकर जाता था। उन्होंने एक बार कुछ राशि चंडीगढ़ के सैक्टर-34 स्थित टॉय होटल में दी थी। जब उन्होंने 5 करोड़ रूपये राम लाल चौधरी को दे दिए तो उसके बाद से राम लाल ने उनका फोन उठाना बंद कर दिया। उसने इस बात की शिकायत चंडीगढ़ पुलिस को दी थी। चंडीगढ़ पुलिस ने आलाधिकारियों की देख रेख में डी.एस.पी. देविंदर शर्मा, इंस्पेक्टर देविंदर सिंह व इंस्पेक्ट्र नरेंद्र पटियाल की एस.आई.टी. बनायी थी। जांच के बाद एस.आई.टी. ने राम लाल चौधरी को गिरफ्तार किया था। आरोपी की गिरफ्तारी किए जाने के बाद पुलिस ने उससे पुछताछ के दौरान अहम खुलासे किए है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Sandeep

Related News

Recommended News