परगट सिंह और सिसोदिया के बीच चुनौती का खेल, सिसोदिया ने जारी की स्कूलों की सूची

punjabkesari.in Monday, Nov 29, 2021 - 11:14 AM (IST)

चंडीगढ़,  (रमनजीत सिंह) आम आदमी पार्टी के नेता व दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने रविवार को पंजाब के शिक्षा मंत्री परगट सिंह को दी गई चुनौती के तहत, दिल्ली के 12वीं कक्षा तक के 250 सरकारी स्कूलों की सूची जारी कर दी। पंजाब और दिल्ली सरकार के स्कूलों की स्थिति और संपूर्ण शिक्षा प्रणाली की तुलना करने के लिए सिसोदिया ने पंजाब सरकार व मंत्री परगट सिंह से ऐसे ही स्कूलों की सूची मांगी है। 

सिसोदिया ने रविवार को दिल्ली के उन 250 सरकारी स्कूलों की सूची जारी की, जिन्होंने शिक्षा सुधार, बुनियादी ढांचे, प्रशिक्षण और परिणाम के क्षेत्र में सुधार किया है। 

उन्होंने कहा कि यह बहुत खुशी की बात है कि अब देश की राजनीति में खासकर चुनावी राजनीति में शिक्षा एक मुद्दा बनती जा रही है। “पिछले 5 सालों में दिल्ली के सरकारी स्कूलों में शिक्षा के क्षेत्र में जो काम हुआ है, इसने अन्य दलों को इसके बारे में बात करने के लिए मजबूर किया है। सिसोदिया ने कहा कि हाल ही में अरविंद केजरीवाल ने पंजाब में शिक्षकों के लिए कई घोषणाएं की थीं, जबकि पंजाब कांग्रेस ने दावा किया है कि उन्होंने शिक्षा के क्षेत्र में बहुत काम किया है और दिल्ली में कोई काम नहीं हुआ।
सिसोदिया ने कहा कि इसीलिए उन्होंने पिछले पांच वर्षों में पंजाब में और दिल्ली में क्रमशः किए गए कार्यों पर खुली बहस के लिए चुनौती दी। उन्होंने कहा कि पंजाब के शिक्षा मंत्री की इच्छा के मुताबिक  250 स्कूलों की समीक्षा होगी। इसके लिए दिल्ली के 250 सरकारी स्कूलों की सूची जारी की है। 


मनीष सिसोदिया ने कहा कि दिल्ली के सरकारी स्कूलों के छात्र आईआईटी और जेईई में गए हैं। इन सभी स्कूलों में बुनियादी ढांचे और परिणामों में सुधार हुआ है। परिणाम 80 प्रतिशत से बढ़ाकर 100 प्रतिशत कर दिया गया है। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रतिस्पर्धा करने वाले बच्चों के साथ शिक्षकों को देश और विदेश में प्रशिक्षित किया गया है। 

उन्होंने कहा कि ऐसे भी स्कूल हैं, जिनमें 50-50 छात्रों ने नीट परीक्षा में क्वालीफाई किया है। इस साल लगभग 500 बच्चों ने नीट क्वालीफाई किया है जो बारहवीं कक्षा में सरकारी स्कूलों में पढ़ रहे थे और लगभग इतने ही बच्चों ने जेईई मेन्स पास किया है। लगभग 70 बच्चों ने जेईई एडवांस पास किया है जिसका मतलब है कि उन्हें आईआईटी में सीधे प्रवेश मिल रहा है। सिसोदिया ने कहा, पिछले चार सालों से दिल्ली के सरकारी स्कूलों ने निजी स्कूलों से बेहतर प्रदर्शन किया है।
पंजाब के शिक्षा मंत्री परगट सिंह से पंजाब के सरकारी स्कूलों की सूची जारी करने का अनुरोध करते हुए, सिसोदिया ने कहा, “परगट सिंह से अनुरोध है कि पंजाब के 12वीं कक्षा तक के 250 स्कूलों की सूची जारी करनी चाहिए, जिन पर उनकी सरकार ने पिछले पांच सालों में सुधार पर काम किया है। 

सिसोदिया ने कहा, "मुझे उम्मीद है कि आज शाम तक पंजाब के उन 250 सरकारी स्कूलों की सूची, जो बारहवीं कक्षा तक हैं, उनके शिक्षा मंत्री पंजाब सरकार की ओर से जारी कर देंगे।" उन्होंने कहा, "पंजाब के लोगों को देखना चाहिए कि किस सरकार ने वास्तव में शिक्षा पर काम किया है और कौन सी सरकार केवल झांसा दे रही है।"


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Ramanjit Singh

Related News

Recommended News