‘युवक की हत्या कर शव झाडिय़ों में फेंका

2021-09-14T22:54:42.47

पंचकूला, (चंदन मिश्र): पंचकूला-मोरनी रोड पर स्थित गांव बेरवाला के पास देर रात एक व्यक्ति की हत्या कर आरोपियों ने शव झाडिय़ों में फैंक दिया। पुलिसकर्मी गश्त करते हुए मौके पर पहुंचे तो आरोपियों ने उन पर गाड़ी चढ़ाने की कोशिश की। गनीमत रही कि दोनों पुलिसकर्मी बच गए। कुछ ही दूरी पर आरोपियों की गाड़ी का एक्सीडैंट हो गया और दोनों गाड़ी छोड़कर फरार हो गए। मृतक की पहचान राजीव सैनी (34) निवासी गांव सेदपुरा डेराबस्सी के रूप में हुई है। वहीं पुलिस ने मंगलवार देर शाम दोनों आरोपियों गुरविंद्र व जसपाल निवासी डेराबस्सी को गिरफ्तार कर लिया। बुधवार को उन्हें कोर्ट में पेश किया जाएगा।


गश्त के दौरान पुलिस की पड़ी नजर
चंडीमंदिर थाना के ए.एस.आई. प्रदीप कुमार व चालक होमगार्ड महाबीर सोमवार रात करीब साढ़े 11 बजे मोरनी रोड की तरफ जा रहे थे। जब वे फोरैस्ट नाके से थोड़ा आगे पहुंचे तो वहां 2 लड़केगाड़ी साइड पर खड़ी कर बैठे थे। उनसे पूछताछ के लिए जब वे नीचे उतरे तभी दोनों गाड़ी बैक कर लाए और उन पर चढ़ाने की कोशिश की। फिर दोनों गाड़ी के  लेकर फरार हो गए। जब पुलिस कर्मियों नेआसपास खून देखा तो उन्होंने झाडिय़ों को हटाया। वहां युवक का शव पड़ा था। तुरंत बाद आला अफसरों को सूचना दी गई। चंडीमंदिर थाने के एस.एच.ओ. व क्राइम ब्रांच की टीम मौके पर पहुंची।


डेढ़ किलोमीटर दूर आरोपियों की गाड़ी का हुआ एक्सीडैंट, शराब और सोडे की बोतलें मिली 
चंडीमंदिर थाने के एस.एच.ओ. अरविंद कंबोज ने बताया कि सूचना मिलने पर वे तुरंत घटनास्थल की ओर चले। इसी दौरान घटनास्थल से करीब डेढ़ किलोमीटर पहले एक गाड़ी क्षतिग्रस्त खड़ी थी। दोनों आरोपी उसी गाड़ी में मौके से फरार हुए थे। पुलिस ने कार को कब्जे में ले लिया। पुलिस को मौके से शराब और सोडेे की बोतलें व गिलास भी मिले हैं।


शाम करीब साढ़े 6 बजे घर से पैदल निकला था
राजीव की माता माया देवी ने बताया कि बेटे को सोमवार शाम साढ़े 6 बजे फोन आया। बेटा वह पैदल ही घर से निकला था। रात 9 बजे से माया देवी बेटे को फोन कर रही थी लेकिन उसने फोन नहीं उठाया।


दोस्त पर जताया हत्या का शक
माया देवी ने बताया कि राजीव की दोस्ती 8 माह पहले गुरविंद्र से हुई थी। गुरविंद्र ने राजीव से कहा कि वह घर बना रहा है और उसे 2 लाख रुपए की जरूरत है। राजीव ने उसे दो लाख रुपए दिए थे। कुछ समय बाद राजीव ने गुरविंद्र के समक्ष कनाडा जाने की इच्छा जाहिर की तो गुरविंद्र ने कहा कि उसका एक व्यक्ति जानकार है जो कनाडा भिजवा सकता है। राजीव ने गुरविंद्र के जानकार मनीष को साढ़े 3 लाख रुपए कनाडा जाने के लिए दे दिए लेकिन न तो राजीव को कनाडा भिजवाया और न ही पैसे लौटाए। माया देवी ने बताया कि उसे शक है कि बेटे की हत्या पैसे के लेन देन को लेकर की गई है। पुलिस ने शव का मंगलवार को पोस्टमार्टम करवापरिजनों को सौंप दिया है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

ashwani

Recommended News