फर्जी सर्टिफिकेट का मामला: एन.एच.एम. के डायरैक्टर की शिकायत पर पुलिस ने दर्ज किया धोखाधड़ी का केस

punjabkesari.in Thursday, Aug 11, 2022 - 08:40 PM (IST)

पंचकूला,(मुकेश)।  कम्युनिटी हैल्थ ऑफिसर पद पर नौकरी पाने के लिए फर्जी एम.एल.एच.पी. सर्टिफिकेट जमा करवाने का एक और मामला सामने आया है। सैक्टर-5 थाना पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। पुलिस ने फर्जी सर्टिफिकेट नैशनल हैल्थ मिशन में जमा करवाने वाले कैंडिडेट और फर्जी सर्टिफिकेट जारी करने वाले पैरामैडिकल काऊंसिल के प्रिंसीपल दोनों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। पुलिस के अनुसार राजस्थान के सिकर निवासी राजेश कुमार ने राजीव गांधी पैरामैडिकल काऊंसिल राजस्थान से कोर्स किया था। पैरामैडिकल काऊंसिल की ओर से एम.एल.एच.पी. सर्टिफिकेट जारी किया गया था।

 

 

जिसके आधार पर हरियाणा नैशनल हैल्थ मिशन की ओर से कम्युनिटी हैल्थ ऑफिसर के पद निकाली गई भर्ती के लिए आवेदन दिया था और उसके लिए सर्टिफिकेट जमा करवाया था। डॉक्यूमैंट्स वैरीफिकेशन के लिए एन.एच.एम. ऑफिस पहुंचा था जहां पर जांच के दौरान उसके द्वारा जमा करवाया गया एम.एल.एच.पी. सर्टिफिकेट फर्जी पाया गया। एन.एच.एम. के डायरैक्टर की शिकायत पर पुलिस ने कैंडिडेट और पैरामैडिकल काऊंसिल प्रिंसिपल के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। सैक्टर-5 थाना में एन.एच.एम. डायरैक्टर की शिकायत पर 9 मामले दर्ज हो चुके हंै।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Ajay Chandigarh

Related News

Recommended News