नहर में फैंके गए रैमडेसिविर इंजैक्शनों के मामले में 2 करोड़ कैश और 4 कारों समेत 6 गिरफ्तार

2021-06-19T00:34:05.883

चंडीगढ़/श्री चमकौर साहिब, (रमनजीत/कौशल): पिछले माह गांव सलेमपुर और बालसंडा भाखड़ा नहर से रैमडेसिविर की शीशियां और इंजैक्शन मिलने के मामले में श्री चमकौर साहिब पुलिस ने बहुकरोड़ी अंतर्राज्यीय रैकेट का पर्दाफाश करते हुए 6 लोगों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों से 2 करोड़ की नकदी और 4 कारें बरामद हुई हैं।
एस.एस.पी. रूपनगर डॉ. अखिल चौधरी ने बताया कि 6 मई को गांव सलेमपुर और बालसंडा में भाखड़ा नहर में 3000 शीशियां जिनमें 621 रैमडेसिविर, 1456 सेफोपेराजोन और 849 बिना लैबल की शीशियां बरामद की गई थीं। रोपड़ पुलिस ने डॉ. अंकुर गुप्ता के नेतृत्व में एस.आई.टी. का गठन किया, जिसमेंशामिल सुखजीत सिंह विर्क डी.एस.पी. और गुरप्रीत सिंह एस.एच.ओ. ने मामले की जांच की।

 

शीशियों पर लिखे मार्कीटिंग एड्रैस का पता लगाया गया जो नौटविनस फार्मास्यूटिकल के नाम पर दर्ज किया गया था। पुलिस ने चंडीगढ़ के गांव मलोया में छापा मारा और बिल्डिंग के मालिक से पूछताछ की तो उसने बताया कि मोहम्मद शाहवर नामक व्यक्ति ने 10 महीने पहले दवाइयोंं की सप्लाई करने के बहाने यह जगह किराए पर ली थी। दिल्ली, पानीपत और अंबाला में पुलिस ने मोहम्मद शाहवर का पता लगाने के लिए छापे भी मारे। इसी दौरान आरोपी का सहायक पकड़ में आया, जो नकली टीकों की सप्लाई करने का आरोपी था।

 

उक्त आरोपी से पूछताछ से पुलिस मोहम्मद शाहवर के मुख्य दफ्तर काला अंब हिमाचल प्रदेश पहुंची लेकिन आरोपी शाहवर वहां से फरार हो गया। शाहवर गिरफ्तारी से बचने के लिए गोवा, बेंगलुरु, यू.पी., दिल्ली आदि स्थानों पर भी पुलिस के साथ आंख-मिचौली खेल रहा था। आखिर में पुलिस को मोहम्मद शाहवर अपनी अग्रिम जमानत के लिए अदालत रूपनगर आता पकड़ा गया।

 

पकड़े गए आरोपियों की पहचान मोहम्मद शाहवर गांव खुड्डा जिला मुजफ्फरनगर उत्तर प्रदेश, मोहम्मद अरशद खान शहर बागपत उत्तर प्रदेश, मोहम्मद अरशद सहारनपुर उत्तर प्रदेश, प्रदीप सरोहा कुरुक्षेत्र हरियाणा, शाह नजर और शाह आलम निवासी बहलोलपुर मोहाली के तौर पर हुई है। आरोपियों से 2 करोड़ नकद, 4 कारें, जिनमें मारुति बोलैनो, टोयोटा इटिऑस, हुंडई आई-20 और मारुति स्विफ्ट डिजायर के अतिरिक्त टीके की शीशियों के लिए इस्तेमाल किए गए डिजाइन और अन्य पैकिंग सामग्री आदि भी बरामद की गई। इस मौके एस.पी. हैडक्वार्टर अंकुर गुप्ता ने बताया कि बरामद शीशियों के सैंपल फॉरैंसिक जांच के लिए सी.डी.एस.सी.ओ., कोलकाता को भेजे गए। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

ashwani

Recommended News