ट्राईसिटी में 3242 कोरोना पॉजीटिव, चार की मौत

punjabkesari.in Thursday, Jan 20, 2022 - 12:00 PM (IST)

 
चंडीगढ़,(पाल/राजिंद्र शर्मा): ट्राईसिटी में बुधवार को कोरोना के 3242 नए केस कन्फर्म हुए जबकि 4 मरीजों की मौत भी हुई है। चंडीगढ़ में 1502 नए केस कन्फर्म हुए जबकि दो की मौत हुई। तीन दिनों में शहर में 6 कोविड मरीजों की मौत हो चुकी है। इसके साथ ही 1112 मरीज ठीक होकर डिस्चार्ज भी हुए जिसके बाद एक्टिव केस 9966 हो गए हैं। नए मरीजों में 809 पुरुष और 693 महिलाएं हैं। बुधवार को पॉजिटिविटी रेट 25.91 जबकि एक हफ्ते का 23.67 प्रतिशत रहा। एक हफ्ते से औसतन 1424 केस आ रहे हैं। सबसे ज्यादा 128 केस मनीमाजरा से कन्फर्म हुए। स्वास्थ्य विभाग 24 घंटे में 5797 सैम्पल टैस्ट कर चुका है।

 


अभी ऊपर नीचे जा रहा है मरीजों का ग्राफ : डा. सुमन
डायरैक्टर हैल्थ सर्विसिस डॉ. सुमन सिंह के मुताबिक मरीजों का ग्राफ अभी ऊपर नीचे जा रहा है। नए केस भले ही आ रहे हैं, लेकिन अच्छी बात यह है कि मरीजों में ज्यादातर एसिमटोमैटिक हैं। ऐसे में उन्हें अस्पताल में एडमिट करने की जरूरत नहीं है। ऐसे मरीजों के लिए मिनी कोविड केयर सैंटर खोल रहे हैं। उन लोगों के लिए जिनके पास होम आइसोलेशन की सुविधा नहीं है, उन्हें वहां रखा जा रहा है। हमारे बहुत से हैल्थ वर्कर्स पॉजीटिव आ रहे हैं। उनमें कई स्टूडैंट्स भी हैं। ऐसे में उन्हें भी हम वहां शिफ्ट कर रहे हैं। मरीजों का रिकवरी रेट अच्छा है।

 

शहर के दोनों मृतकों की उम्र 70 साल से ऊपर
शहर के दोनों मृतकों की उम्र 70 साल से ऊपर है। कोविड मरीजों के मरने की संख्या अब 1093 तक पहुंच गई है। सैक्टर-23 की रहने वाली 78 वर्षीय महिला की मौत मायो हॉस्पिटल में हुई। उसके मल्टीपल ऑर्गन फेलियर हुए थे। महिला ने कोई भी डोज नहीं ली हुई थी।
दूसरी मौत सैक्टर-47 के रहने वाले 73 वर्षीय पुरुष की हुई। वह फोर्टिस हॉस्पिटल में भर्ती था। उसे दिल की बीमारी, हाइपरटैंशन और डायबटीज भी थी। उसने कोविड वैक्सीन की दोनों डोज ली हुई थी। 

 


शहर में 4 दिन बाद फिर बढ़ी मरीजों की संख्या
शहर में बुधवार को फिर कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ी है जबकि यह चार दिन से कम हो रही थी। इससे पहले 15 जनवरी को 1795 केस पॉजीटिव आए थे। उसके बाद से केस कम हो रहे थे। डायरैक्टर हैल्थ डॉ. सुमन सिंह की मानें तो अभी दोनों वायरस एक्टिव हैं। वायरस का पैटर्न ऊपर नीचे होने का है। कम से कम एक हफ्ते तक केस कम होते हैं तो कुछ कहा जा सकता है, लेकिन अभी यह कहना कि इंफैक्शन कम हो रहा है जल्दबाजी होगी।

 

 

पंचकूला में 509 पॉजीटिव, एक्टिव केस 2140
 पंचकूला जिला में बुधवार को 509 पॉजीटिव केस कन्फर्म हुए। स्वास्थ्य विभाग ने मंगलवार को 2454 सैंपल लिए थे, जिनमें पंचकूला के 452 जबकि 57 केस पंचकूला से बाहर के हैं। अब तक एक्टिव मरीजों की संख्या 2140 पहुंच गई है।
वहीं, अब तक कुल 50575 केस सामने आए हैं, जिनमें पंचकूला के 39072 केस हैं। अब तक 384 कोरोना मरीजों की मौत हो चुकी है। पंचकूला स्वास्थ्य विभाग कुल 553547 लोगों के सैंपल ले चुका है। 2119 मरीजों को होम आइसोलेशन में रखा गया है जबकि 21 अस्पताल में भर्ती हैं।

 

मोहाली जिला में 2 की मौत, 1231 पॉजीटिव केस कन्फर्म 
कोरोना का प्रकोप थमने का नाम नहीं ले रहा है। बुधवार को भी मोहाली जिला में 2 कोरोना मरीजों की मौत हो गई। इसके साथ ही 1231 पॉजिटिव केस कन्फर्म हुए हैं। मोहाली की सिविल सर्जन डॉ. आदर्श पाल कौर ने बताया कि डेराबस्सी की 40 वर्षीय महिला की मौत हुई है। वह लैवल 3 तक संक्रमित थी और सैक्टर-32 अस्पताल में भर्ती थी। कोविशील्ड की 1 डोज ली हुई थी। दूसरी मौत मोहाली के फेज 2 के 72 वर्षीय की पी.जी.आई. में हुई। उसने कोविशील्ड की दोनों डोज ली हुई थी। उन्होंने बताया कि सबसे ज्यादा 417 केस मोहाली से आए हैं। इसके अलावा खरड़ से 247, ढकोली से 223, डेराबस्सी से 126, लालड़ू से 107, घड़ुआं से 48, बूथगढ़ से 29, कुराली से 20 और बनूड़ से 14 केस कन्फर्म हुए हैं। इसी तरह 972 कोरोना मरीज ठीक भी हुए हैं। अब कुल एक्टिव मामले 8574 हैं जबकि अब तक मोहाली में 1094 मौतें कोरोना के चलते हो चुकी हैं।

 

जीरकपुर थाने के एस.एच.ओ समेत 15 मुलाजिम पॉजीटिव
जीरकपुर इलाके में कोरोना लगातार पैर पसार रहा है। ढकौली में 100 से अधिक कोरोना के केस सामने आ चुके हैं। अब कोरोना ने जीरकपुर थाने में दस्तक दी। एस.एच.ओ. ओंकार सिंह बराड़ समेत 15 पुलिसकर्मी कोरोना की चपेट में आ चुके हैं। पुलिसकर्मी एकांतवास में चले गए हैं तथा थाने में पब्लिक डिलिंग को कुछ दिनों के लिए बंद कर दी गई है।

 


कोरोना को लेकर प्रशासन की समीक्षा बैठक आज
कोरोना के बढ़ते खतरे को देखते हुए यू.टी. प्रशासक बनवारी लाल पुरोहित ने 20 जनवरी को एक समीक्षा बैठक बुलाई है। बैठक में पंचकूला और मोहाली के डीसी भी उपस्थित रहेंगे। शहर में संक्रमण दर काफी ज्यादा है। इसके बावजूद प्रशासन के अधिकारी सख्ती के मूड में नहीं हैं। सूत्रों के अनुसार प्रशासन अपने पुराने फैसलों में कुछ रियायत भी दे सकता है। कोरोना के केस बढऩे के बाद करीब साढ़े चार माह बाद वॉर रूम की बैठक शुरू हुई है जिसकी अध्यक्षता पंजाब के राज्यपाल व चंडीगढ़ के प्रशासक बनवारीलाल पुरोहित करेंगे। ये उनकी चौथी बैठक होगी। बैठक में सलाहकार धर्मपाल उपस्थित नहीं होंगे, क्योंकि वे कोरोना संक्रमित हो गए हैं। हालांकि उन्हें कोरोना के गंभीर लक्षण नहीं है। प्रशासन के अधिकारियों का कहना है कि शहर के केस काफी तेजी से बढ़े हैं। संक्रमण का दर भी ज्यादा है, इसलिए इसे रोकने के लिए वैक्सीनेशन की रफ्तार बढ़ाई जाएगी। ज्यादातर अधिकारी पाबंदियों के पक्ष में नहीं हैं, क्योंकि इससे अर्थव्यवस्था पर काफी बुरा असर पड़ता है। इसलिए प्रशासन अपने कुछ पुराने फैसलों में भी रियायत दे सकता है। हालांकि संक्रमण की रफ्तार भी ज्यादा है, इसलिए इसे रोकने के लिए कुछ नई पाबंदियों की घोषणा भी की जा सकती है। जिम संचालक जिम खोलने की मांग कर रहे हैं।

 

प्रशासन ने 38 नए माइक्रो-कंटेनमैंट जोन बनाए
प्रशासन ने बुधवार को 38 नए माइक्रोकंटेनमैंट जोन बनाने की घोषणा की है। ये माइक्रोकंटेनमैंट जोन सेक्टर-7, 19, 20, 27, 28, 30, 35, 36, 43, 40, 41,  46, 49, 51, 32, 33 और 38वैस्ट समेत अन्य सैक्टरों के घरों में बनाए गए हैं। डी.सी. की तरफ से जारी किए आदेश के अनुसार इन इलाकों मेंअनिवार्य सेवाओं में लगे लोगों को छोड़ अन्य किसी के भी जाने पर पाबंदी रहेगी। इसके अलावा लोगों की स्क्रीनिंग भी की जाएगी।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Ajay Chandigarh

Related News

Recommended News