ईज ऑफ डूइंग बिजनेस रिपोर्ट जारी नहीं करेगा world bank, रैंकिंग बढ़ाने का था प्रेशर

09/17/2021 1:12:11 PM

बिजनेस डेस्कः वर्ल्ड बैंक ग्रुप ने कहा है कि उसने देशों में इनवेस्टमेंट के माहौल पर ईज ऑफ डुइंग बिजनेस रिपोर्ट प्रकाशित नहीं करने का फैसला किया है। वर्ल्ड बैंक का कहना है कि उसकी जांच में वरिष्ठ अधिकारियों की ओर से डेटा में गड़बड़ी करने का दबाव डालने का पता चला है। इनमें तत्कालीन चीफ एग्जिक्यूटिव क्रिस्टियाना जॉर्जियेवा भी शामिल थी।

चीन के स्कोर को बढ़ाने के लिए अधिकारियों पर डाला दबाव 
एक स्टेटमेंट में वर्ल्ड बैंक ने कहा कि यह फैसला इंटरनल ऑडिट रिपोर्ट्स के नैतिकता से जुड़े मामलों को उठाने के बाद लिया गया है। इनमें बैंक के पूर्व और मौजूदा अधिकारियों का आचरण शामिल है। इस बारे में लॉ फर्म विल्मर हेल ने भी एक जांच की है। विल्मर हेल की रिपोर्ट में वर्ल्ड बैंक के तत्कालीन प्रेसिडेंट जिम योंग किम की ओर से चीन के स्कोर को बढ़ाने के लिए वरिष्ठ अधिकारियों पर प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष तरीके से दबाव डालने का हवाला दिया गया है।

इसमें यह भी बताया गया है कि क्रिस्टियाना ने कर्मचारियों पर चीन के डेटा प्वाइंट्स में विशेष बदलाव करने का दबाव डाला था जिससे रैंकिंग को बढ़ाया जा सके। वर्ल्ड बैंक उस दौरान चीन से फंडिंग बढ़ाने की मांग कर रहा था। क्रिस्टियाना अभी इंटरनेशनल मॉनेटरी फंड की मैनेजिंग डायरेक्टर हैं। हालांकि, क्रिस्टियाना ने इन आरोपों से इनकार किया है।

कारोबारी सुगमता रिपोर्ट को बंद करने का किया फैसला 
विश्व बैंक समूह ने गुरुवार को एक बयान में कहा, ‘‘पिछली समीक्षाओं के निष्कर्षों, ऑडिट और बैंक के कार्यकारी निदेशक मंडल की ओर से आज जारी रिपोर्ट सहित कारोबारी सुगमता पर अब तक उपलब्ध सभी सूचनाओं की समीक्षा करने के बाद विश्व बैंक समूह प्रबंधन ने कारोबारी सुगमता रिपोर्ट को बंद करने का फैसला किया है।’’ बयान में कहा गया कि समूह विकास में निजी क्षेत्र की भूमिका को आगे बढ़ाने और सरकारों को समर्थन देने के लिए प्रतिबद्ध है।

विश्व बैंक ने बयान में कहा, ‘‘आगे हम व्यापार और निवेश के माहौल का आकलन करने के लिए एक नए नजरिए पर काम करेंगे। हम अपने उन कर्मचारियों के प्रयासों के लिए अत्यधिक आभारी हैं, जिन्होंने व्यापार जलवायु एजेंडा को आगे बढ़ाने के लिए परिश्रमपूर्वक काम किया है। हम उनकी ऊर्जा और क्षमताओं का नए तरीकों से उपयोग करने के लिए तत्पर हैं।’’  


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

jyoti choudhary

Recommended News