दिवाली के मौके पर ये कंपनी देगी बंपर प्रोमोशन, 5000 कर्मचारियों को मिलेगा फायदा

10/21/2019 5:36:52 PM

बेंगलुरूः दिवाली से ठीक पहले दिग्गज IT कंपनी विप्रो के कर्मचारियों को एक नई सौगात मिल सकती है। दरअसल, विप्रो आने वाली तिमाही में अपने 5,000 कर्मचारियों को प्रोमोट करने का प्लान बना रही है। इस बारे में बिजनेस स्टैंडर्ड ने अपनी एक रिपोर्ट में जानकारी दी है। इस रिपोर्ट में कहा गया है कि कंपनी अपने कर्मचारियों को बनाए रखने के लिए यह कदम उठा रही है। सितंबर माह में खत्म हुई तिमाही में विप्रो में कर्मचारियों के बने रहने की दर 17 फीसदी थी जो कि पिछली ​तिमाही से करीब 0.60 फीसदी कम है।

इन कर्मचारियों को होगा प्रोमोशन
इस रिपोर्ट में विप्रो के HR Head सौरभ गोविल के हवाले से लिखा गया है कि दूसरी कंपनियों के मुकाबले कर्मचारियों को बनाए रखने की दर के मामले में विप्रो ने बेहतर किया है। कंपनी ने कर्मचारियों को हाइक दे दिया है और आने वाले दिनों में बड़े स्तर पर प्रोमोशन की तैयारी की जा रही है। 5 साल से 8 साल के अनुभव वाले करीब 5 हजार कर्मचारियों को प्रोमोट किया जाएगा।

फ्रेशर्स को मिल चुका है बोनस
जून में खत्म हुई पहली तिमाही में कंपनी ने अपने फ्रेशर्स को 1 लाख रुपए का रिटेंशन बोनस दिया था। इन्हें कैंपस प्लेसमेंट के जरिए हायर किया गया था और कंपनी में एक साल पूरा कर चुके थे। कैंपस प्लेसमेंट (Campus Placement) के माध्यम से आए उन कर्मचारियों को भी बोनस दिया गया, जिन्होंने कंपनी में 3 साल से अधिक समय से हैं।

भविष्य की तैयारी कर रही कंपनी
इस रिपोर्ट में कहा गया है कि कंपनी ने इस प्रोमोशन में एल1 कर्मचारियों को एल2 और एल2 कर्मचारियों को एल3 स्तर पर प्रोमोट किया गया है। बता दें कि आईटी कंपनियों में कर्मचारियों को अलग-अलग स्तर पर बांटा जाता है, जिसमें एल1 में आने वाले कर्मचारी सबसे जूनियर स्तर के हैं। कंपनी के हेड एचआर ने कहा है कि हम तैयार रहना चाहते हैं। यही कारण है कि हम अपने कर्मचारियों को तैयार कर रहे हैं और इसके लिए उन्हें ट्रेनिंग और रि-स्किलिंग के माध्यम से तैयार कर रहे हैं। हमारे इन कदमों का असर अगले दो से तीन तिमाहियों में रेवेन्यू में बढ़ोतरी के रूप में देखने को मिलेगा। आईटी कंपनियां सब कॉन्ट्रैक्टर पर अपनी निभर्रता को कम कर रही हैं। ये कंपनियां अपने प्रमुख लोकेशन पर कर्मचारियों को संख्या में इजाफा कर रही है। कंपनी के अनुसार, अमरीका में 68 फीसदी कर्मचारी लोकल हैं।
 


jyoti choudhary

Related News