देश को लगा महंगाई का तड़का, 85 रुपए तक पहुंचा एक किलो टमाटर का भाव

2020-09-13T10:53:00.417

बिजनेस डेस्कः राजधानी में टमाटर की कीमतें आसमान छूने लगी हैं। शनिवार को टमाटर की खुदरा कीमत 80-85 रुपए प्रति किलोग्राम की ऊंचाई पर पहुंच गई। निजी व्यापारियों के अनुसार उत्पादक क्षेत्रों से आपूर्ति कम रहने की वजह से टमाटर महंगा हो रहा है। टमाटर के दाम जून से मजबूत बने हुए हैं।  

हालांकि सरकारी आंकड़ों के हिसाब से दिल्ली में टमाटर की रीटेल कीमत 60 रुपए प्रति किलो है। मदर डेयरी के सफल में टमाटर 78 रुपए प्रति किलो के भाव मिल रहा है जबकि ई-रिटेलर ग्रोफर्स पर यह 74-75 रुपए और बिग बास्केट पर 60 रुपए प्रति किलो बिक रहा है।

यह भी पढ़ें- टाटा और मिस्त्री समूह में फिर ठनी, टाटा समूह ने SC में की अपील दायर

थोक बाजार में क्या है भाव
एशिया की सबसे बड़ी फल एवं सब्जी मंडी आजादपुर के थोक बाजार में इसका भाव 40 से 60 रुपए किलो था। आजादपुर मंडी में पीपीए टोमैटो एसोसिएशन के अशोक कौशिक ने कहा, नई फसल की कम आवक की खबरों से टमाटर की कीमत बढ़ रही है। माना जा रहा है कि इस बार महाराष्ट्र और दक्षिणी राज्यों में कम फसल हुई है। किसानों को आशंका थी कि कोरोना के कारण उन्हें अपनी फसल का दाम मिल पाएगा या नहीं। यही वजह है कि उन्होंने टमाटर की कम खेती की।

यह भी पढ़ें- Apple ने खोला दुनिया का पहला पानी में तैरने वाला मोबाइल स्टोर, देखिए ये खास तस्वीरें

क्यों बढ़ रही है कीमत
जानकारों का कहना है कि लॉकडाउन में किसानों को 1-2 रुपए प्रति किलो के हिसाब से टमाटर बेचने पड़े थे। इसके अलावा बारिश के कारण फसल को हुए नुकसान से सप्लाई पर असर पड़ा है। कौशिक ने उम्मीद जताई कि अगले 15 दिन में टमाटर की कीमत सामान्य स्तर पर आ जाएगी। उत्तर प्रदेश, राजस्थान, झारखंड, पंजाब, तमिलनाडु, केरल, जम्मू एवं कश्मीर तथा अरुणाचल प्रदेश में इस बार टमाटर की कम फसल हुई है। आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक देश में हर साल 197.3 लाख टन टमाटर का उत्पादन होता है जबकि खपत 115.1 लाख टन है।

यह भी पढ़ें-  कंगना मामले के बाद सख्त हुआ DGCA, यात्रा के दौरान फोटोग्राफी करने पर फ्लाइट रहेगी सस्पेंड 


jyoti choudhary

Related News