यात्री वाहन खंड में दबदबा बनाए रखने के लिए एसयूवी की मजबूती जरूरी: मारुति

punjabkesari.in Sunday, Mar 06, 2022 - 12:47 PM (IST)

नई दिल्लीः देश की सबसे बड़ी कार विनिर्माता मारुति सुजुकी इंडिया (एमएसआई) ने तेजी से बढ़ते एसयूवी उपखंड में अपनी मौजूदगी बढ़ाने की जरूरत पर जोर दिया है। कंपनी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि आने वाले वक्त में घरेलू यात्री वाहन खंड में दबदबा बनाए रखने के लिए एसयूवी उपखंड में मजबूती जरूरी है। घरेलू यात्री वाहन खंड में एमएसआई की बाजार हिस्सेदारी पिछले साल 48 प्रतिशत से घटकर 45 प्रतिशत हो गई थी। इस कमी को भरने के लिए कंपनी एसयूवी खंड पर खासतौर से जोर दे रही है। 

एमएसआई के वरिष्ठ कार्यकारी निदेशक (विपणन और बिक्री) शशांक श्रीवास्तव ने कहा कि अगर कंपनी को बाजार में अपने लक्ष्यों को हासिल करना है, तो उसे एसयूवी खंड में अच्छा प्रदर्शन करना होगा। उन्होंने कहा कि गैर-एसयूवी खंड में कंपनी की बाजार हिस्सेदारी पिछले पांच वर्षों में बढ़ रही है और सिर्फ एसयूवी जैसे उपखंड में वह पीछे है।

उन्होंने कहा, "इसलिए, हम अपने एसयूवी पोर्टफोलियो को मजबूत करना चाह रहे हैं, उद्योग में इस समय एसयूवी खंड में 46 ब्रांड हैं। हमारे पास दो हैं - ब्रेजा और एस-क्रॉस।" उन्होंने आगे कहा, "ब्रेजा शुरुआती स्तर के एसयूवी खंड में अग्रणी है तो इसका मतलब है कि भले ही आपके पास ब्रेजा जैसा बेस्ट सेलर हो एसयूवी खंड में हमारी बाजार हिस्सेदारी कम है। इसका मतलब है कि हमें पोर्टफोलियो को मजबूत करने की जरूरत है और हम ऐसा ही करने की तैयारी कर रहे हैं।" उन्होंने कहा कि यात्री वाहन खंड में एसयूवी की हिस्सेदारी 38 प्रतिशत है, जो पिछले साल 32 प्रतिशत थी।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

jyoti choudhary

Related News

Recommended News