शेयर बाजार ने बनाया नया रिकॉर्ड, सेंसेक्स 369 अंक मजबूती के साथ बंद

4/16/2019 3:43:16 PM

मुंबईः विदेशी बाजारों से मिले सकारात्मक संकेतों के बीच बैंकिंग एवं वित्तीय तथा वाहन क्षेत्र की कंपनियों में जबरदस्त लिवाली से मंगलवार को घरेलू शेयर बाजार नए रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गए। बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 369.80 अंक यानी 0.95 प्रतिशत की छलांग लगाकर 39,275.64 अंक के रिकॉर्ड स्तर पर बंद हुआ। 

सोमवार की तुलना में 134.46 अंक की मजबूती के साथ खुलने के बाद बीच कारोबार में एक समय इसने 39,364.34 अंक की रिकॉर्ड ऊंचाई को भी छुआ। इसका दिवस का निचला स्तर 39,038.81 अंक रहा। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 35.85 अंक की बढ़त में 11,736.20 अंक पर खुला और कारोबार की समाप्ति से पहले 11,810.95 अंक के अब तक के रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गया। अंत में यह 96.80 अंक यानी 0.83 फीसदी चढ़कर 11,787.15 अंक पर बंद हुआ। इसका दिवस का न्यूनतम स्तर 11,731.55 अंक दर्ज किया गया।  

मिडकैप और स्मॉलकैप
मझौली और छोटी कंपनियों में निवेशकों का विश्वास अपेक्षाकृत कम रहा। बीएसई का मिडकैप 0.12 प्रतिशत चढ़कर 15,521 अंक पर और स्मॉलकैप 0.37 प्रतिशत की बढ़त में 15,171.71 अंक पर पहुंच गया। बाजार में लिवाली का जोर इस कदर रहा कि सेंसेक्स की 30 में से 27 कंपनियों के शेयर हरे निशान में रहे। इंडसइंड बैंक में सर्वाधिक चार प्रतिशत की तेजी रही। आईसीआईसीआई बैंक के शेयर साढ़े तीन फीसदी और ओएनजीसी के ढाई फीसदी चढ़े। पावर ग्रिड में आधा फीसदी से अधिक की गिरावट रही। निफ्टी की 50 में से 36 कंपनियां बढ़त में और 13 में गिरावट में रही जबकि एक के शेयर अपरिवर्तित बंद हुए। 

बीएसई के 20 समूहों में रियलिटी को छोड़कर अन्य 19 में तेजी दर्ज की गई। बैंकिंग समूह का सूचकांक एक प्रतिशत से ज्यादा और टिकाऊ उपभोक्ता उत्पाद का 1.16 प्रतिशत चढ़ा। बीएसई में कुल 2,724 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ। इनमें 1,291 के शेयरों में लिवाली और 1,279 में बिकवाली का जोर रहा जबकि 154 के शेयर दिन भर के उतार-चढ़ाव के बाद अंतत: अपरिवर्तित रहे। 

बाजार में तेजी की 3 वजह
विश्लेषकों के मुताबिक मजबूत विदेशी संकेतों और विदेशी फंडों के निवेश से बाजार में उछाल आया। आईएमडी के सामान्य मॉनसून के अनुमान से भी बाजार को सहारा मिला। शेयर बाजार के जानकार हेमंग जानी के मुताबिक चौथी तिमाही के वित्तीय नतीजे आगे बाजार के लिए अहम होंगे।


jyoti choudhary

Related News