निर्मला सीतारमण ने बताया, अगले बजट में क्या होगा खास

punjabkesari.in Tuesday, Nov 03, 2020 - 12:14 PM (IST)

बिजनेस डेस्कः मोदी सरकार ने अपने अगले आम बजट की तैयारियां शुरू कर दी हैं। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने एक इंटरव्यू में बताया कि अगले बजट में उनका फोकस पूरी तरह इन्फ्रास्ट्रक्चर और सुधारों पर होगा।

वित्त मंत्री ने कहा कि कई आर्थिक आंकड़ों से साफ संकेत मिल रहे हैं कि इकॉनमी अब पटरी पर लौटने लगी है लेकिन रिकवरी को स्थाई बनाने के लिए यह जरूरी है कि ये आंकड़े लगातार इसी स्तर पर बने रहें। उन्होंने स्वीकार किया कि महंगाई हमेशा से सरकार के लिए चिंता की बात रही है और आपूर्ति में मामूली बाधा से ही समस्या गहरा जाती है। केवल व्यवस्थागत सुधारों, बेहतर भंडारण, जल्दी खराब होने वाली चीजों के बेहतर रखरखाव से ही मदद मिलेगी। हम इस पर काम कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें- मुकेश अंबानी को लगा बड़ा झटका, दुनिया के अमीरों की लिस्ट में चार पायदान फिसले

विनिवेश की धीमी प्रक्रिया
विनिवेश की धीमी प्रक्रिया के बारे में उन्होंने कहा कि इसमें कई फैक्टर हैं। इन सबका ध्यान रखना पड़ता है। इसमें कई प्रक्रियाओं को पालन करना पड़ता है। कोविड-19 ने स्थिति को और मुश्किल बना दिया है। सरकार की इस बात के लिए आलोचना हो रही है कि सरकार के राहत उपायों से मध्य वर्ग को कुछ हासिल नहीं हुआ। इस पर सीतारमण ने कहा कि मिडल क्लास कोई एक कैटगरी नहीं है, वे हर जगह हैं। ईपीएफओ से जुड़े जो उपाय किए गए, उससे मध्य वर्ग को फायदा हुआ।

यह भी पढ़ें-  ICICI-Axis बैंक ग्राहकों को झटका! खाते में पैसा जमा करने पर लगेगा चार्ज

राज्यों के साथ जीएसटी मुआवजे के मुद्दे पर विवाद के बारे में उन्होंने कहा कि कोई भी मुद्दा बातचीत से हल हो सकता है और जीएसटी काउंसिल एक मजबूत और सक्रिय फोरम है लेकिन बहस को फेडरेलिज्म के लिए खतरा नहीं माना जाना चाहिए। अगर हर बार आम सहमति न बने तो फैसला नहीं लिया जाना चाहिए या फैसले को संदेह से देखा जाना चाहिए, यह स्वीकार्य नहीं है। 

यह भी पढ़ें- RBI के पूर्व गवर्नरों की चेतावनी, इकॉनमी पर भारी पड़ सकता है बैंकों का बढ़ता NPA

महंगाई हमेशा चिंता की बात
निर्मला सीतारमण ने स्वीकार किया कि महंगाई हमेशा से सरकार के लिए चिंता की बात रही है और आपूर्ति में मामूली बाधा से समस्या गहरा जाती है। उन्होंने कहा कि व्यवस्थागत सुधारों, बेहतर भंडारण, जल्दी खराब होने वाली चीजों के बेहतर रखरखाव से मंहगाई को काबू करने में मदद मिलेगी। केंगद्र सरकार इन चीजों पर काम कर रही है और कृषि इंफ्रास्ट्रक्चर को मजबूत बनाने की दिशा में तेजी से काम कर रही है। उन्होंने उम्मीद जताई कि जल्द ही महांगाई पर काबू पा लिया जाएगा। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

jyoti choudhary

Related News

Recommended News