30 फीसदी तक सस्ती हो जाएंगी नई कारें, सरकार लागू करेगी यह खास पॉलिसी

2020-09-19T16:34:17.513

नई दिल्ली: बीते कई दिनों से लटकी स्क्रैपेज पॉलिसी जल्द लागू होने वाली है। केंद्रीय राज्‍यमंत्री जनरल वीके सिंंह ने संसद में एक सवाल के जवाब में बताया कि पुराने वाहनों को हटाने के लिए नई पॉलिसी का कैबिनेट नोट तैयार हो गया है। स्क्रैपेज पॉलिसी के लागू होने से गिरावट का सामना कर रही देश की अर्थव्यवस्था को मजबूती मिलेगी। ग्राहकों को अब नए वाहन 30 फीसदी तक सस्ते मिलेंगे। नई गाड़ियों की मांग बढ़ने से ऑटोमोबाइल सेक्टर में तेजी आएगी। स्क्रैप सेंटरों पर बड़े पैमाने पर रोजगार उपलब्ध होंगे।

मुफ्त में होगा रजिस्ट्रेशन
पुरानी कार को स्क्रैपेज सेंटर को बेचने के बाद ग्राहक को एक प्रमाण पत्र मिलेगा। इसे दिखाने के बाद नई कार खरीदने वालों का कार जिस्ट्रेशन मुफ्त में किया जाएगा। सूत्रों की मानें तो इस फैसले के बाद करीब 2.80 करोड़ वाहन स्क्रैपेज पॉलिसी के अंतर्गत आएंगे। पॉलिसी के आने के बाद देश में बड़े पैमाने पर वाहन कबाड़ केंद्र बनाए जाएंगे, जिससे बड़ी संख्या में रोजगार के साधन पैदा होंगे। 

अर्थव्यवस्था में तेजी लाने का काम करेगी स्क्रैपेज पॉलिसी
स्क्रैपेज पॉलिसी को जल्द कैबिनेट के पास भेजा जाएगा। मंजूरी मिलने के बाद इसे लागू करने की प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी। कोरोना काल के समय में स्क्रैपेज पॉलिसी अर्थव्यवस्था में तेजी लाने का काम करेगी।

पुरानी कारों का क्या होगा 
स्क्रैपेज पॉलिसी लागू होने के बाद 15 साल पुरानी गाड़ियों को सड़कों से हटाने का प्रावधान खत्म कर दिया गया है। लेकिन ऐसी गाड़ियों को चलाने के लिए हर साल फिटनेस सर्टिफिकेट लेना पड़ेगा।इसके साथ ही रजिस्ट्रेशन रिन्यू कराने की फीस को बढ़ाकर दो से तीन गुना कर दिया गया है। ऐसे में वाहन मालिक पुरानी गाड़ियों को बेचकर नई गाड़ी खरीदने के लिए आकर्षित होंगे।


Author

rajesh kumar

Related News