यूनिकॉर्न क्लब में चीन को पीछे छोड़ते हुए दूसरे पायदान पर पहुंचा भारत, अमेरिका पहले स्थान पर

punjabkesari.in Sunday, Apr 24, 2022 - 02:54 PM (IST)

बिजनेस डेस्कः भारत ने एक और मोर्चे पर उभरते हुए एक नया मुकाम हासिल कर लिया है। भारत अब उभरते यूनिकॉर्न (Unicorn) वाले देशों में दूसरे नंबर पर आ गया है। भारत ने इस लिस्ट में चीन को पछाड़ दिया है और अब इसमें केवल अमेरिका (US) ही भारत से ऊपर, पहले स्थान पर है। शनिवार को केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने ट्विटर पर यह जानकारी साझा की। 

गोयल ने ट्वीट कर कहा, 'सबसे उभरते हुए यूनिकॉर्न वाले देशों में भारत अब दुनिया का नंबर 2 है, चीन से आगे है।' उन्होंने आगे लिखा, 'हमारा मजबूत और अभिनव इको सिस्टम भारतीय स्टार्टअप को यूनिकॉर्न क्लब में उभरने में सक्षम बना रहा है।' केंद्रीय मंत्री ने अपने ट्वीट में तस्वीर भी पोस्ट की है। इसमें बताया गया है कि भारत में 32 उभरते हुए यूनिकॉर्न कंपनियां बनी हैं, जबकि चीन में 27 यूनिकॉर्न कंपनियां बनी हैं।

PunjabKesari

पीयूष गोयल ने कहा, इससे पहले साल 2021 में भी भारत ने चीन को यूनिकॉर्न के मामले में पीछे छोड़ दिया था। साल 2021 में भारत में जहां 33 यूनिकॉर्न बनी थीं, तो चीन में उसके मुकाबले यूनिकॉर्न की संख्या केवल 19 रही थी।

क्या होते हैं यूनिकॉर्न स्टार्टअप?
यूनिकॉर्न एक ऐसी स्टार्टअप कंपनी को कहते हैं, जिसकी वैल्यू एक अरब डॉलर (1 billion Dollar) से ज्यादा की हो जाती है। आसान शब्दों में कहा जाए, तो जब एक प्राइवेट स्टार्टअप कंपनी की वैल्यू एक बिलियन डॉलर की हो जाती है या फिर उससे भी ज्यादा तो उसे यूनिकॉर्न कहा जाता है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

jyoti choudhary

Related News

Recommended News