ब्रिटिश एयरवेज के पायलटों की हड़तालः 2 हजार गुना बढ़ा किराया, 3 लाख यात्रियों पर असर

9/10/2019 9:19:06 AM

बिजनेस डेस्कः ब्रिटिश एयरवेज ने पायलटों की हड़ताल के कारण लगभग अपनी सभी उड़ानें रद्द कर दी हैं। इसका असर दुनिया भर के करीब 3 लाख यात्रियों पर पड़ा है। हड़ताल के कारण अन्य कंपनियों की फ्लाट्स का किराया 1000 से 2000 गुना बढ़ गया है। एयरलाइन के 100 साल के इतिहास की यह सबसे बड़ी हड़ताल मानी जा रही है।
PunjabKesari
सभी उड़ानें रद्द
खास तौर पर लंदन से टोक्यो, लंदन से जोहान्सबर्ग समेत कई उड़ानों के किराए में जबरदस्त बढ़ोतरी हुई है। 90 मिनट की उड़ान के लिए 75000 रुपए और 8 घंटे की उड़ान के लिए 220000 रुपए देने पड़ रहे हैं। ब्रिटिश एयरवेज ने सोमवार को कहा था कि पायलटों की हड़ताल के पहले दिन वह ब्रिटेन के सभी हवाईअड्डों से अपनी करीब करीब सभी उड़ानें निरस्त करने को बाध्य है। ब्रिटिश एयरवेज ने जारी एक वक्तव्य में कहा, ‘‘पायलटों के साथ वेतन संबंधी विवाद को सुलझाने के कई महीने चले प्रयास के बावजूद, हम इस स्थिति में पहुंचे हैं इसके लिए हमें बहुत खेद है।’’
PunjabKesari
एसोसिएसन से बातचीत करने के लिए तैयार कंपनी
एयरलाइन ने कहा है कि वह अभी भी ब्रिटिश एयरलाइन पायलट्स एसोसिएसन (बीएएलपीए) के साथ बातचीत के लिए तैयार है। एयरलाइन ने कहा है, ‘‘दुर्भाग्य से बीएएलपीए से हमारे पास इस बारे में कोई जानकारी नहीं मिल पाई कि कौन से पायलट हड़ताल पर होंगे, हम यह बताने की स्थिति में नहीं हैं कि कितने पायलट काम पर पहुंचेंगे और वह कौन सा विमान उड़ाने की योग्यता रखते हैं। इसलिए ऐसी स्थिति में हमारे सामने कोई विकल्प नहीं बचता है और हम करीब करीब शत प्रतिशत उड़ानों को निरस्त कर रहे हैं।’’
PunjabKesari
4000 से ज्यादा पायलट हड़ताल पर
एयरलाइन ने बताया कि ब्रिटेन की एयरलाइन कंपनी ब्रिटिश एयरवेज के 4,300 के करीब पायलट पिछले नौ माह से वेतन विवाद को लेकर उलझे हुए हैं। उनकी हड़ताल की वजह से तीन लाख से अधिक लोगों की यात्रा का कार्यक्रम गड़बड़ा सकता है। पायलटों के संगठन बीएएलपीए ने इससे पहले एयरलाइन के जुलाई में पेश तीन साल में 11.5 प्रतिशत वेतन वृद्धि के प्रस्ताव को खारिज कर दिया था।


Supreet Kaur

Related News