कौन पहने और कैसे पहने ‘मास्क’

2020-03-18T01:48:53.397

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोरोना वायरस के चलते मास्क के इस्तेमाल पर दिशा-निर्देश जारी किए हैं। 

मास्क का इस्तेमाल
*जिस व्यक्ति में वायरस के लक्षण नहीं हैं उसे मास्क नहीं पहनना।
*स्वस्थ लोग जिनमें कोरोना वायरस के लक्षण नहीं वे भी मास्क न पहनें।
*यह सुरक्षा की गलत धारणा को उत्पन्न करता है और इसके चलते आप हाथ धोने जैसे अन्य जरूरी उपायों की अनदेखी कर सकते हैं।
*कोई भी वैज्ञानिक प्रमाण ऐसा नहीं दर्शाता कि जो बीमार नहीं हैं उनको मास्क के इस्तेमाल से लाभ होगा।
*6 घंटे से ज्यादा डिस्पोजेबल मास्क के निरंतर इस्तेमाल अथवा उसी मास्क के बार-बार इस्तेमाल करने से संक्रमित होने का जोखिम बढ़ता है।
इसकी बजाय फिर क्या करें
*साबुन तथा पानी के साथ 40 सैकेंड तक निरंतर हाथ धोते रहें।
*70 प्रतिशत अल्कोहल के साथ अल्कोहल आधारित हैंड सैनीटाइजर का 20 सैकेंड तक इस्तेमाल करना चाहिए।
*यदि हाथों में मिट्टी लगी हो या फिर गंदे हों तब अल्कोहल आधारित हैंड सैनीटाइजर का इस्तेमाल न किया जाए मगर साबुन तथा पानी के साथ हाथ धोना लाजिमी है।
*खांसने तथा जुकाम होने पर नाक तथा मुंह को रूमाल या पेपर टिशू से ढक कर रखें।
*यदि रूमाल या फिर पेपर टिशू उपलब्ध न हों तब कोहनी रख कर खांसें।
*इस्तेमाल करने या फिर हाथ धोने के तुरंत बाद ऐसी टिशूज को डिस्पोज कर दें।
*चेहरे, मुंह, नाक तथा आंखों को छूने से परहेज करें।
*अपने शारीरिक तापमान को जांचते रहें।
*खांसने तथा जुकाम वाले व्यक्ति से एक मीटर की दूरी बनाएं।
कब मास्क का इस्तेमाल करें
*जब व्यक्ति को बुखार तथा लगातार खांसी आती रहे तब तीन परतों वाला एक मैडीकल मास्क इस्तेमाल किया जाए। इससे संक्रमण के फैलने पर अंकुश लगेगा।
कितना प्रभावशाली है मास्क
*एक मैडीकल मास्क यदि अच्छी तरह से पहना हो तब यह 8 घंटों के लिए प्रभावी रहता है।
*यदि इस दौरान यह गीला हो जाए तब इसे तुरंत ही बदल डालें।
सही प्रक्रिया
*मास्क को अपने मुंह तक ही पहनें।
*इसे नाक, मुंह तथा ठोड़ी पर रखें।
*नाक की नासिकाओं के ऊपर एक मैटेलिक स्ट्रिप रखें।
*मास्क की ऊपरी डोरियों को कानों के ऊपर से तथा नीचे वाली डोरियों को गले के पीछे से बांधें।
*यह सुनिश्चित करें कि मास्क के दोनों तरफ कोई गैप न हो। इसे फिट करके रखें।
*इस्तेमाल के दौरान मास्क को छूने से बचें।
*गर्दन से इसे लटकने न दें।
*डिस्पोजेबल मास्क दोबारा न पहनें और इसे डिस्पोज कर दें।
*मास्क को हटाने के दौरान यह ध्यान रखें कि आप इसके बाहरी हिस्से को छू न पाएं क्योंकि यह दूषित हो सकता है।
*मास्क हटाने के लिए सबसे पहले नीचे वाली डोरी हटाएं, उसके बाद ऊपर वाली।
मास्क डिस्पोजल
*इस्तेमाल हुए मास्क को संक्रमित हो चुका 
समझना चाहिए।
*रोगियों तथा स्वास्थ्य कर्मियों या फिर देखभाल करने वाले लोगों द्वारा इस्तेमाल किए गए मास्क को साधारण ब्लीच या फिर सोडियम हाइपो क्लोराइट द्वारा कीटाणुरहित किया जाए। उसके बाद मास्क को या तो जला दो या फिर जमीन में गहरा दबा दो। 


Pardeep

Related News