एक बछड़े की ‘मुंडन सैरेमनी’

2020-03-19T05:43:06.94

सुनने में विचित्र मगर यह बड़ी बात है। यू.पी. के फतेहपुर जिले के गांव सारौली में एक भैंस के बछड़े की मुंडन सैरेमनी गत दिनों आयोजित हुई। जय चन्द्र सिंह नामक एक किसान का कहना है कि उसने यह अनुष्ठान गांववालों के परामर्श पर किया है। जब कभी भी उसकी भैंस किसी बछड़े को जन्म देती है तब उसके लिए मुंडन सैरेमनी की जाती है और उसके उपरांत गांव के लोगों के लिए भंडारा किया जाता है। जय चन्द्र कहते हैं कि मैं अपने गांव की सलाह अनुसार काम करता हूं तथा ऐसी उम्मीद करता हूं कि यह बछड़ा लम्बी आयु जिएगा। 

इस दौरान बछड़े पर लाल चुनरी डाली गई और वह पूरी तरह से बेआराम दिखा जब हज्जाम उसके सिर पर उस्तरा चला रहा था। इस दौरान गांव की महिलाएं बछड़े के इर्द-गिर्द घेरा बनाकर खड़ी थीं तथा लोकगीत गा रही थीं। मुंडन सैरेमनी के दौरान सारौली गांव के 300 लोग एकत्रित हुए जिन्होंने बाद में भंडारा भी खाया। 


Pardeep

Related News