फैस्टिव सीजन पर बढ़ गई कारों पर वेटिंग लिस्ट, इन मॉडल्स के लिए करना होगा एक साल का इंतजार

10/23/2021 1:28:14 PM

ऑटो डेस्क। देश में त्योहारी सीजन चल रहा है, लेकिन ऑटो इंडस्ट्री ग्लोबली सेमीकंडक्टर की कमी से जूझ रही है। हालांकि लोगों में कारों की खरीद को लेकर रेस्पॉन्स काफी पॉजीटिव दिख रहा है, लेकिन लगभग हर कार निर्माता को प्रोडक्शन को लेकर परेशानी का सामना कर रहा है। इस वजह से कंपनियों के पॉपुलर मॉडल्स पर लोगों को भारी इंतजार करना पड़ रहा है। देश में मिड-साइज SUVs पर सबसे ज्यादा इंतजार करना पड़ रहा है।
PunjabKesari
मार्केट में नए कॉम्पटीटर आने के बाद भी हुंडई क्रेटा मिडसाइज एसयूवी स्पेस में लगातार बेस्टसेलिंग मॉडल रही है। हालांकि, क्रेटा का एवरेज वेटिंग पीरिएड कम से कम चार महीने का है, जो कुछ जगहों पर अधिकतम 10 महीने तक बढ़ गया है। इसके अलावा किआ सेल्टोस पर भी एवरेज वेटिंग कम से कम तीन महीने की है, जो अधिकतम छह महीने तक है।
PunjabKesari
महिंद्रा की हाल ही में लॉन्च हुई XUV700 ने केवल दो दिनों में 50,000 बुकिंग लेके सभी रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं और वर्तमान में इसकी 65,000 से अधिक बुकिंग हैं। कंपनी ने हाल ही में थार की एक साल में 75,000 बुकिंग पार करने की भी घोषणा की, जिसमें से कस्टमर्स को केवल 30,000 यूनिट्स की डिलीवरी की गई है और 45,000 ऑर्डर अभी भी वेटिंग में हैं। इन दोनों एसयूवी का वेटिंग पीरिएड लगभग एक साल का हो गया है।
PunjabKesari
मिड-साइज एसयूवी के अलावा किआ सॉनेट, निसान मैग्नाइट और मारुति विटारा ब्रेज़ा जैसी पॉपुलर कॉम्पैक्ट एसयूवी के लिए वेटिंग टाइम पांच से छह महीने का है। आपको बता दें कि हर मॉडल के लिए वेटिंग पीरिएड स्पेशल ट्रिम, कलर च्वॉइस, पावरट्रेन कॉन्फ़िगरेशन और जगह के हिसाब से अलग हो सकती है।

इन दिनों कारों में बढ़ते डिजिटलीकरण, गैजेट्स और टैक्निक की वजह से सेमीकंडक्टर चिप्स पर ऑटो इंडस्ट्री की निर्भरता भी काफी बढ़ गई है। ऑटोमोटिव फील्ड के अलावा महामारी के बाद इलेक्ट्रॉनिक्स गैजेट्स की बढ़ती मांग की वजह से भी चिप्स में कमी देखने को मिल रही है। देश की सबसे बड़ी कार निर्माता कंपनी मारुति सुजुकी को चिप की कमी के चलते सितंबर और अक्टूबर में उत्पादन में क्रमश: 60 फीसदी और 40 फीसदी की कटौती करनी पड़ी है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Akash sikarwar

Recommended News