श्रमिकों ने काम छोड़ किया विरोध-प्रदर्शन

रेवाड़ी(गंगाबिशन):बावल स्थित सनकाई गिकेन इंडिया प्रा. लि. के श्रमिकों ने बुधवार को काम का बहिष्कार करते हुए कंपनी प्रबंधकों के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया। श्रमिकों ने साफ कह दिया कि जब तक कम्पनी में श्रम कानून लागू नहीं होगा, वे काम पर नहीं लौटेंगे। श्रमिकों ने कम्पनी के गेट के पास विरोध स्वरूप प्रदर्शन किया। एटक के महासचिव अजय कुमार ने कहा कि कम्पनी में श्रमिकों पर प्रबंधकों द्वारा अत्याचार किया जा रहा है।
 
कई वर्षों से कम्पनी में श्रम कानून की धज्जियां उड़ाई जा रही हैं। श्रमिकों से 8 की बजाय 10-10 घंटे काम लिया जा रहा है और कोई ओवरटाइम नहीं दिया जा रहा है। जब कोई श्रमिक हक की लड़ाई लड़ता है तो उसे बाहर का रास्ता दिखाया जा रहा है लेकिन अब यह सब नहीं चलेगा। जब तक श्रमिकों को पूरी सुविधा प्रदान नहीं की जाती वे काम पर नहीं लौटेंगे।

श्रमिक प्रतिनिधि जोगिंद्र, अरुण, शेरसिंह, भारत व विजय ने कहा कि प्रबंधकों द्वारा कई सालों से उनकी आवाज को दबाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि कम्पनी में न तो सुरक्षा के प्रावधान हैं और न ही खाने की सुविधा है। उन्होंने कहा कि अब वे जब तक काम चालू नहीं करेंगे जब तक हमारी मांगों को नहीं मान लिया जाए।
 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!