तोते की हत्या करने पर महिला को मिली सजा, बस ये थी वजह

इंटरनैशनल डेस्कः आज तक आपने किसी इंसान की हत्या पर जेल की सजा सुनी होगी पर क्या कभी आपने किसी जानवर की हत्या करने पर सजा होते सुना है। अगर नहीं तो आज हम आपको बताने जा रहे है एेसी ही एक घटना। सौतेली बेटी के तोते को पीट-पीट कर मारने के जुर्म के सिंगापुर की अदालत ने बुधवार को एक महिला को चार हफ्ते के कारावास की सजा सुनाई है।38 साल की त्रान थी थुई हैंग के  गाल पर उसकी सौतली बेटी के तोते 'लकी' ने पिछले साल  काट लिया था। इस पर उसने पिजरे में ही तोते को मार डाला। 
 
अभियोजक तथा कृषि खाद्य एवं वेटेरिनरी अधिकारी याप टेक चुआन ने अदालत को बताया, ''क्रोध में उन्होने (हैंग ने) लकी को घर से तुरंत निकालने की मांग की और कहा कि अगर ऐसा नहीं होता है तो वह उसे मार देगी। अगले दिन मेंग और उनकी बेटी लिंग सुबह नाश्ते के लिए घर से बाहर गए। इसी दौरान हैंग ने एक थापी (बांस का कपड़े धोने के लिए बना मोगरा) लिया और लकी का पिंजड़ा खोला और उससे वह उसे तबतक पीटती रही जबतक उसकी मृत्यु नहीं हो गई।
 PunjabKesari
नाश्ते के बाद जब लिंग अपने पिता के साथ वापस लौटी तो हैंग ने अपने पति को लकी का शव दिखाया और उसने जो किया था, उसकी जानकारी दी। इसके बाद उसने लकी का शव और पिंजड़ा दोनों उठा कर घर के बाहर फेंक दिया। मामले में सजा सुनाते हुए जिला जज एडम नखोदा ने कहा कि हैंग ने जानबूझ कर यह क्रूरता भरा काम किया था। हैंग ने पिछले महीने लकी की हत्या के मामले में अपनी गलती स्वीकार की थी।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!
× RELATED हैरतअंगेजः जन्म से पहले ही पुरानी तस्वीर में देख ली बेटी की फोटो