ऑफ द रिकॉर्डः क्या सोनिया गांधी रायबरेली की सीट प्रियंका को सौंपेंगी?

नेशनल डेस्कः राजधानी में ये अटकलें जोरों पर हैं कि सोनिया गांधी चुनावी राजनीति को अलविदा कह सकती हैं और रायबरेली लोकसभा सीट से चुनाव नहीं लड़ेंगी। इसकी बजाय वह यह सीट प्रियंका गांधी वाड्रा को दे सकती हैं। सोनिया गांधी सक्रिय राजनीतिक गतिविधियों से दूर हो रही हैं और उन्होंने संगठन का सारा काम पिछले वर्ष दिसम्बर में उस समय राहुल गांधी को सौंप दिया था जब उन्हें कांग्रेस अध्यक्ष बनाया गया था। कांग्रेस पार्टी में लम्बे समय से यह मांग जोरों पर है कि प्रियंका गांधी को आगे लाया जाना चाहिए। इससे 2019 के लोकसभा चुनावों में पार्टी की जीत की संभावनाओं को बढ़ावा मिलेगा। इससे उत्तर प्रदेश और दूसरे राज्यों में पार्टी वर्करों में जोश आएगा।
PunjabKesari
लम्बे समय से प्रियंका गांधी कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के लिए पर्दे के पीछे रहकर काम कर रही हैं। सोनिया गांधी ने 1999 में अमेठी लोकसभा सीट से चुनाव लड़ा था और उसके बाद 2004 में वह रायबरेली से चुनाव जीतीं। तब से लेकर अब तक वह इस सीट का प्रतिनिधित्व कर रही हैं।
PunjabKesari
सोनिया का स्वास्थ्य अब ठीक नहीं रहता और वह बड़े पैमाने पर अभियान करने में अक्षम हैं जैसा कि वह पहले किया करती थीं। सोनिया गांधी चाहती हैं कि रायबरेली की सीट परिवार के पास ही रहे और इसके लिए प्रियंका गांधी को इस सीट से आगे लाया जा सकता है। प्रियंका को सक्रिय राजनीति में शामिल करने से ङ्क्षहदी भाषी क्षेत्रों में कांग्रेस को काफी प्रोत्साहन मिलेगा। 

PunjabKesari

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!