9वीं से12वीं तक फ्री में पढ़ाई कर सकेंगे दिव्यांग स्टूडेंट्स

बठिंडा : अब तक दिव्यांग बच्चों को शिक्षा हासिल करने में बहुत सारी दिक्कतों का सामना करना पड़ता था। कई बार स्कूल दाखिला देने से मना कर देते थे या फीस ही इतनी ज्यादा होती थी कि वह शिक्षा पाने से वचिंत रह जाते थे। लेकिन अब दिव्यांग बच्चों को शिक्षा हासिल करने में कोई परेशानी नहीं होगी क्योंकि अब स्कूलों में 9वीं से 12वीं तक दिव्यांग बच्चों का दाखिला और पढ़ाई दोनों फ्री होगी। 18 साल तक के विद्यार्थी से कोई फीस लेने अथवा दाखिला देने में आनाकानी करने वाले स्कूलों पर कानूनी कार्रवाई होगी। 

12वीं तक मुफ्त पढ़ाई कराने के आदेश
शिक्षा विभाग ने प्रदेश के सरकारी, एडेड व प्राइवेट स्कूलों को दिव्यांग विद्यार्थियों को 12वीं तक मुफ्त पढ़ाई कराने के आदेश दिए हैं। कई ऐसे मामले सामने आए हैं जिनमें बच्चे उपयुक्त संसाधन की कमी की वजह से 8वीं के बाद पढ़ाई छोड़कर घर बैठ जाते हैं। शिक्षा सचिव ने मीमो नंबर आईईडीएसएस/रमसा/2018/39371 दिनांक 30 अगस्त को प्रदेश के स्कूलों को स्पष्ट निर्देश दिए हैं कि किसी भी स्कूल मुखी की ओर से 9वीं से 12वीं कक्षा में पढ़ रहे 18 साल की उम्र तक के दिव्यांग विद्यार्थियों से किसी भी तरह की फीस न ली जाए। 

प्रदेश के स्कूलों को भेजे स्पष्ट निर्देश 
शिक्षा विभाग ने पंजाब एवं हरियाणा हाइकोर्ट के निर्देशानुसार राइट आॅफ पर्सन विद डिसएबिलिटी एक्ट 2016 के अनुसार सरकार ने दिव्यांग विद्यार्थियों को शिक्षा के क्षेत्र में दी जाने वाली सुविधाओं का ब्योरा हर स्कूल के बाहर डिस्प्ले बोर्ड पर दर्ज करने करने को कहा गया है। शिक्षा सचिव ने 30 अगस्त को प्रदेश के स्कूलों को भेजे स्पष्ट निर्देश भेज दिए गए है। 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!
× RELATED निगम स्कूलों में होंगे SMART BOARD