भारी बारिश से घग्गर नदी ने धारण किया रौद्र रूप, चेतावनी जारी

पंचकूला (उमंग): हिमाचल प्रदेश, हरियाणा और पंजाब में पिछले तीन दिनों से हो रही तेज बारिश से घग्गर नदी का जलस्तर बढ़ गया है। घग्गर ने रौद्र रूप धारण कर लिया है। वहीं, बढ़ते जलस्तर को देखते हुए पंचकूला प्रशासन ने चेतावनी जारी कर दी है।



पंचकूला उपायुक्त मुकुल कुमार ने नाडा साहिब पुल के पास घग्गर नदी में बढ़े हुए जलस्तर व सुरक्षा-व्यवस्था का जायजा लिया। पंचकूला पुलिस-प्रशासन द्वारा घग्घर नदी के किनारे की जगहों पर सुरक्षा कारणों के चलते पुलिसकर्मियों को तैनात कर दिया है।



पंचकूला उपायुक्त मुकुल कुमार ने जानकारी देते हुए बताया कि बारिश के चलते बरसाती नालों और घग्घर नदी के आसपास धारा 144 लगाई गई है। इस दौरान किसी को भी घग्गर नदी में जाने की अनुमति नहीं है।



बाढ़़ की स्थिति से निपटने के लिए पुख्ता प्रबंध
पंचकूला प्रशासन द्वारा बाढ़़ नियंत्रण कक्ष भी स्थापित किए गए हैं। बाढ़ नियंत्रण कक्ष का दूरभाष नंबर 0172-2562135, 0172-2568311, 0172-2561685 है।
उपमंडल अधिकारी कालका के कार्यालय में स्थापित बाढ़ नियंत्रण कक्ष का नंबर 01733-220500 है। 
पंचकूला में तहसील स्तर पर स्थापित किए गए बाढ़ नियंत्रण कक्ष (बी) का दूरभाष नंबर 0172-2562135 है। 
तहसीलदार कालका कार्यालय में स्थापित बाढ़ नियंत्रण कक्ष का दूरभाष नंबर 01733-220501 है।
बीडीपीओ पिंजौर के कार्यालय में खंड स्तर पर स्थापित बाढ़ नियंत्रण कक्ष (ए) का दूरभाष नंबर 01733-220046 है। 
इसी प्रकार खंड विकास एवं पंचायत अधिकारी मोरनी कार्यालय में स्थापित बाढ़ नियंत्रण कक्ष का दूरभाष नंबर 01733-250103, खंड विकास एवं पंचायत अधिकारी बरवाला में स्थापित बाढ़ नियंत्रण कक्ष का नंबर 01733-256413 तथा खंड विकास एवं पंचायत अधिकारी रायपुररानी कार्यालय में स्थापित बाढ़ नियंत्रण कक्ष का नंबर 01734-256628 है। 

नगर निगम द्वारा शहरी क्षेत्र पंचकूला, कालका और पिंजौर के लिए स्थापित बाढ़ नियंत्रण कक्ष का दूरभाष नंबर 0172-2583794 है।
उपायुक्त ने जिला वासियों से अपील करते हुए कहा सुरक्षा की दृष्टि से घग्गर नदी और जिले में बहने वाले अन्य नदी-नालों में न जाएं और अपने बच्चों को भी न जाने दें।

Related Stories:

RELATED भारी बारिश से घग्गर नदी ने धारण किया रौद्र रूप, चेतावनी जारी