3 साल बाद विहारी की IPL में वापसी, कहा- शुरूआत करने के लिए अच्छी हैं कम उम्मीदें

नई दिल्ली: भारत के लिए पदार्पण कर चुके हनुमा विहारी का कहना है कि वह आगामी आईपीएल में उस सोच को बदलने की कोशिश करेंगे कि वह टी20 प्रारूप के लिए इतने अच्छे खिलाड़ी नहीं है। उनका कहना है कि वह ‘कम उम्मीदों’ से निपटने के लिए पूरी तरह तैयार हैं।


विहारी की आईपीएल में वापसी हुई है जो 23 मार्च से शुरू हो रही है। अपने अप्रभावी स्ट्राइक रेट के कारण नीलामी में तीन साल तक नहीं बिकने के बाद अब वह दिल्ली कैपिटल्स के लिए खेलते दिखेंगे। विहारी ने एक वेबसाइट से कहा, ‘मुझे लगता है कि बीते समय में धीमे स्ट्राइक रेट के कारण लोगों को मुझसे ज्यादा उम्मीदें नहीं होंगी जो अच्छी चीज हो सकती है। मैं इसे सकारात्मक रूप से लेता हूं क्योंकि अब मेरे पास उन सभी को गलत साबित करने का मौका है।’ दिल्ली कैपिटल्स में स्टार सुसज्जित शीर्ष क्रम में शिखर धवन, पृथ्वी साव, कप्तान श्रेयस अय्यर और ऋषभ पंत शामिल हैं।

विहारी को पता है कि अंतिम एकादश में जगह बनाना काफी मुश्किल होगा लेकिन वह फिनिशर की भूमिका निभाने के लिए तैयार हैं, उसी तरह से जैसे उन्होंने मेलबर्न में अपरिचित परिस्थतियों के बावजूद पारी का आगाज करने पर सहमति जताई थी। उन्होंने कहा, ‘ईमानदारी से कहूं तो मैं तीन साल के अंतराल के बाद आईपीएल में खेलूंगा और मैं मैदान पर जाकर टीम प्रबंधन की इच्छा के अनुसार कहीं भी बल्लेबाजी करने के लिए तैयार हूं, भले ही यह शीर्ष क्रम हो या फिर फिनिशर की भूमिका हो।’

Related Stories:

RELATED IPL-12 : 20-20 लाख में बिके यह क्रिकेटर भी नहीं है कम, धूम मचाने का रखते हैं माद्दा