इस देश में 95 लाख में बिक रहा 1 किलो मीट, कूड़े में फैंके जा रहे नोट

कराकसःभारत में नोटबंदी के बाद जहां लोगों का अरबों रुपया सादा कागज के ढेरों में तबदील हो गया था वहीं कई लोगों ने अपना काला धन पानी में बहाया व कूड़े में फैंक दिया अथवा जला दिया था। अब एेसा ही कुछ हुआ है आर्थिक संकट से जूझ रहे दक्षिण अमरीकी देश वेनेजुएला में जहां महंगाई का स्तर इतना बढ़ गया है कि टोकरियों नोट देकर लोग एक किलो मीट खरीद पा रहे हैं। यहां मंदी की मार का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि लोग करंसी नोट कूड़े में फैंक रहे हैं। इस हाइपर महंगाई से निपटने के लिए वेनेजुएला की सरकार ने नोटों से 5 जीरो हटाने का फैसला लिया है यानी 5 लाख बोलिवर ये की करंसी अब महज 5 बोलिवर के बराबर होगी।  

PunjabKesariसरकार ने किया मुद्रा का अवमूल्यनः सरकार ने आर्थिक संकट से उभरने के लिये अपनी मुद्रा बोलिवर का अवमूल्यन कर दिया है। वेनेजुएला के केंद्रीय बैंक ने नई विनिमय दर के तहत बोलिवर का 96 प्रतिशत तक अवमूल्यन किया है। यह आसमान छू रही मुद्रास्फीति को रोकने के लिये राष्ट्रपति निकोलस मादुरो द्वारा किए जा रहे प्रयासों का हिस्सा है। हालांकि, कारोबारी दिग्गज इस फैसले की आलोचना कर रहे हैं क्योंकि सरकार के इस फैसले के बाद वेनेजुएला में नोटों को लोग कूड़े में फेंकने को मजबूर हो रहे हैं।
PunjabKesari
विरोध में उतरा विपक्ष, बंद रहे व्यवसायः वेनेजुएला के केंद्रीय बैंक ने यूरो के मुकाबले बोलिवर की विनिमय दर 68.65 बोलिवर प्रति यूरो निर्धारित की। वहीं, अमरीकी मुद्रा के मुकाबले इसकी दर करीब 60 बोलिवर प्रति डॉलर के बराबर है। इससे पहले डॉलर कुछ 2.48 बोलिवर के बराबर था। मुद्रा समायोजन से निपटने के लिए कुछ व्यवसाय बंद रहे, जबकि अन्य व्यवसाय मादुरो की नीति का विरोध कर रहे तीनों विपक्षी पार्टियों की 24 घंटे के विरोध प्रदर्शन में शामिल हुए।  
PunjabKesari
 95 लाख में मिल रहा 1 किलो मीटः वेनेजुएला में महंगाई इस कदर तक बढ़ गई है कि एक किलो मीट के लिए 95 लाख बोलिवर देने पड़ रहे हैं। कुछ अर्थशास्त्री महंगाई को दिखाने के लिए एक कप कॉफी की कीमत का इस्तेमाल कर रहे हैं। 31 जुलाई को वेनेजुएला की राजधानी में एक कप कॉफी के लिए लोग 25 लाख बोलिवर चुका रहे थे। अब नई व्यवस्था के तहत, एक कप कॉफी की कीमत 25 सॉवरिन बोलिवर्स हो जाएगी। 
PunjabKesari
500,000 से ज्यादा नागरिक कर चुके पलायनः खाद्य संकट और दवाइयों की कमी के बीच वेनेजुएला के 500,000 से ज्यादा नागरिक देश छोड़कर जा चुके हैं।अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) का अनुमान है कि वेनेजुएला में इस साल के अंत तक महंगाई 10 लाख प्रतिशत की दर तक बढ़ जाएगी। इस साल के अंत तक वेनेजुएला में न्यूनतम मजदूरी में 3,000 फीसदी और महंगाई में 1,00,000 पर्सेंट का इजाफा होने की आशंका है। इससे समझा जा सकता है कि वेनेजुएला में हालात कितने खराब हो सकते हैं।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!
× RELATED वेनेजुएला में रिपोर्टिंग दौरान ब्रिटेन और अर्जेंटिना के पत्रकार गिरफ्तार