दिल्ली में अब नहीं मिलेंगे शराब के 2 मशहूर ब्रांड, सरकार ने लगाया बैन

नेशनल डेस्क: दिल्ली में शराब के शौकीनों के लिए बड़ी खबर है। अब राजधानी में शराब के ठेकों पर VAT 69 और सिमरन ऑफ वोडका नहीं दिखाई देगी। दिल्ली सरकार ने इस पर दो सालों के लिए बैन लगा दिया है। सूत्रों के अनुसार दिल्ली सरकार के वित्तीय आयुक्त ने शराब निर्माता यूनाइटेड-स्पिरिट्स लिमिटेड (यूएसएल) को ब्लैकलिस्ट किया है। 


इस कंपनी पर आरोप है कि  यह नकली बारकोड का इस्तेमाल किया है। बैन लगाए जाने के बाद USL अब राजधानी में अपने उत्पाद नहीं बेच सकेगी। 14 सितंबर को दिए गए आदेश में वित्तीय आयुक्त अनिन्द्यो मजूमदार ने कहा कि यूसीएल ने अनाधिकृत और ढीले बारकोड का उपयोग करके दिल्ली उत्पाद शुल्क अधिनियम, 2009 और दिल्ली उत्पाद शुल्क नियम, 2010 के प्रावधानों का उल्लंघन किया था जिसका आसानी से दुरुपयोग किया जा सकता था। इस मामले पर USL की ओर कोई टिप्पणी नहीं आई है।


वित्तीय आयुक्त ने अपने आदेश में कहा कि अपीलकर्ता ने दिल्ली उत्पाद शुल्क अधिनियम, 2009, दिल्ली उत्पाद शुल्क नियम, 2010, जारी किए गए लाइसेंस के नियम और शर्तों और दिल्ली उत्पाद शुल्क विभाग द्वारा तैयार मानक ऑपरेटिंग प्रक्रिया के प्रावधानों का उल्लंघन किया। इसके परिणामस्वरूप विभाग ने यूनाइटेड स्पिरिट्स लिमिटेड (यूएसएल), औरंगाबाद पर दिल्ली उत्पाद शुल्क नियम, 2010 के नियम 70 के तहत ब्लैकलिस्टिंग का जुर्माना लगाया है। 


यह आदेश USL द्वारा दायर अपील पर आया जिसमें दिल्ली सरकार के उत्पाद विभाग के डिप्टी कमिश्नर और आयुक्त के आदेश को चुनौती दी थी, जिसने USL, औरंगाबाद और पंजाब के अतिरिक्त स्रोत, संगरूर, पंजाब को तीन साल तक ब्लैकलिस्ट किया था। हालांकि इस मामले में USL की अभी तक कोई टिप्पणी नहीं आई है। 

Related Stories:

RELATED अब विदेशी शराब पीना पड़ेगा और भी महंगा, बढ़ने वाले हैं दाम