उर्जित पटेल के इस्तीफे पर सियासत तेज, राष्ट्रपति से मिलेंगे विपक्षी नेता

नई दिल्लीः सरकार से कथित टकराव के कारण रिजर्व बैंक के गर्वनर उर्जित पटेल के इस्तीफे पर विपक्षी नेताओं ने गहरी चिंता व्यक्त की है और कहा है कि वे इस मुद्दे को लेकर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मिलेंगे। तेलुगु देशम पार्टी के नेता एन चंद्रबाबू नायडू द्वारा संसद के शीतकालीन सत्र से पूर्व बुलाई गई विपक्षी दलों की बैठक के बाद तृणमूल कांग्रेस की प्रमुख ममता बनर्जी ने  कहा कि देश में उच्च पदों पर बैठे लोग राजनीतिक कारणों से इस्तीफा दे रहे हैं जो चिंता का विषय है।

ममता ने कहा कि प्रमुख जांच एजेन्सी केन्द्रीय जांच ब्यूरो के अधिकारियों के बीच टकराव और अब उर्जित पटेल के इस्तीफे से देश में आर्थिक और राजनीतिक आपातकाल के हालात बन गए हैं। उन्होंने कहा कि सभी दलों के नेताओं ने इस मुद्दे की गंभीरता को देखते हुए राष्ट्रपति से मिलने का निर्णय लिया है।

 

इस बीच कांग्रेस ने कहा है कि एक और बडे पदाधिकारी को इस्तीफा देना पड़ा है और यह लोकतांत्रिक संस्थाओं पर ‘चौकीदार’ के हमले का परिणाम है। उल्लेखनीय है कि उर्जित पटेल ने सोमवार शाम अपने पद से इस्तीफा दे दिया। पटेल ने अपने लिखित बयान में कहा कि वह अपने पद से तत्काल प्रभाव से इस्तीफा दे रहे हैं।

  

Related Stories:

RELATED पीडीपी पर पड़ रही है इस्तीफों की मार, 7 और नेताओं ने दिया त्यागपत्र