UPSC मेंस 2018 की परीक्षा में इन बातों का रखें ध्यान

संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) की ओर से सिविल सर्विस की मेंस परीक्षा  28 सितंबर से 4 अक्टूबर तक करवाई जाएगी।  बता दें, अंतिम योग्यता तैयार करते समय केवल सात पेपर के अंक ध्यान में रखा जाता है।

 इन बातों का रखें ध्यान...

संपूर्ण विचार लिखें: निबंध में कंटेन्ट में तथ्य फैक्ट से ज्यादा विचारों का संपूर्ण होना जरूरी है। आलेख में सभी पहलू समाहित हो जाएं। जैसे भारत में औद्योगिक विकास न होने के कारण विषय पर लिखते समय संपूर्ण विचार व्यवस्थित करना होगा।

 

-प्रभावी लिखना जरूरी: ये यूनिवर्सिटी की परीक्षा नहीं है कि बच्चे सिर्फ सिलेबस पूरा करके एग्जाम दे देते हैं। इसलिए दूसरे से बेहतर और प्रभावी लिखना जरूरी है।

 

-प्रस्तुतिकरण अच्छी हो: सवालों के जवाबों की प्रभावी प्रस्तुतिकरण होनी चाहिए। इफेक्टिव टूल कंटेन्ट जैसे ग्राफिक्स, टेबल आदि का प्रयोग करना चाहिए।

 

-शुद्धता और स्पीड इस परीक्षा में सफलता दिलाने में खास योगदान है इसलिए हमेशा ध्यान में रखें कि हर प्रैक्टिस बेहद जरूरी है।

 

-पिछले साल के प्रश्न पत्रों को जरूर देखें। इनसे सवालों के नोट कर लें और हर चैप्टर से इसका औसत निकाल लें। इसके बाद उन चैप्टर्स पर खास ध्यान दें जिनसे ज्यादा सवाल पुछे गए हैं।

 

- अगर एक बार चैप्टर पढ़ लिया है तो इसकी कई बार रिवीजन करें। खासकर मैथ्स में यह बेहद जरूरी है. इसके अलावा आप मॉक टेस्ट भी सॉल्व सकते हैं।

 

-अपनी जनरल अवेयरनेस बढ़ाने के लिए बेहतर होगा कि आप 12वीं तक की NCERT पुस्तकें भी पढ़ें। हिस्ट्री में स्वतंत्रता संघर्ष से संबंधित प्रश्न अधिक पूछे जाते हैं। इस कारण आप इस पर विशेष ध्यान दें। इसके अलावा रोज की घटनाओं के बारे में जानने के लिए अखबार पढ़ें और देश दुनिया की खबरों पर नजर बनाएं रखें।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!