ट्रंप ‘फ्लाइट 93’ में मारे गए लोगों को श्रद्धांजलि देने पहुंचे पेनसिल्वानिया

वॉशिंगटनःअमरीका को हिला देने वाले 9/11 हमलों के 17 साल बाद, राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप अपहरण की गई ‘फ्लाइट 93’ में मारे गए लोगों को श्रद्धांजलि देने के लिए मंगलवार को पेनसिल्वानिया  पहुंचे। 11 सितंबर 2001 को एक विमान वाशिंगटन के उत्तर पश्चिम में करीब 200 किलोमीटर की दूरी पर स्थित छोटे शहर शैंक्सविले के एक खेत में दुर्घटनाग्रस्त हो गया था। इस विमान का नियंत्रण भी अलकायदा आतंकियों के हाथों में  था।

‘यूनाइटेड फ्लाइट 93’ में सवार यात्रियों को फोन पर उनके प्रियजन ने बताया कि दो अन्य यात्री विमान न्यूयार्क के वर्ल्ड ट्रेड सेंटर से टकराए हैं। इन यात्रियों ने इस विमान का नियंत्रण फिर से हासिल करने का प्रयास किया था। दुर्घटनास्थल हमलावरों के लक्ष्य अमरीकी राजधानी वॉशिंगटन के बहुत पास था। शैंक्सविले में मारे गए यात्रियों को तब से ‘हीरो’ माना जाता है।

 व्हाइट हाउस की प्रवक्ता सारा सैंडर्स ने कहा कि ट्रंप उस दर्दनाक दिन को याद करेंगे और निश्चित रूप से उन लोगों को श्रद्धांजलि देंगे जिन्हें न केवल हमने खो दिया बल्कि जिन्होंने अपनी जिंदगी दांव पर लगा दी। माना जाता है कि विमान के अपहर्ता इस विमान के जरिए अमरीकी प्रतिनिधि सभा और सीनेट वाले स्थान ‘कैपिटोल’ पर हमला करना चाहते थे। वर्ष 2001 में उस दिन कांग्रेस का पूर्ण सत्र चल रहा था।   ट्रंप और उनकी पत्नी मेलानिया फ्लाइट 93 नेशनल मैमोरियल पर नवनिर्मित इमारत ‘टॉवर आफ वॉइसेज’ का दौरा करेंगे।  

× RELATED चलते विमान में पायलट ने वर्दी उतार की एेसी हरकत, चौंक गए यात्री